अपराध

सीतापुर: आजम खां की जेल बदले जाने के खिलाफ याचिका खारिज

लखनऊ। धोखाधड़ी के मामले में सीतापुर जेल में बंद सपा सांसद आजम खां, उनकी पत्नी और बेटे अब्दुल्ला के जेल शिफ्टिंग को लेकर दाखिल याचिका अदालत ने खारिज कर दी है। अब इन सभी को परिवार सहित सीतापुर जेल में ही रहना होगा। अदालत ने प्रशासन को यह फैसला करने के लिए स्वतंत्र कर दिया है। प्रशासन यदि चाहेगा तो विधायक डॉ.तंजीन फातिमा को रामपुर जेल में शिफ्ट किया जा सकता है।

जिला शासकीय अधिवक्ता सिविल अजय तिवारी और सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी राम औतार सिंह सैनी ने बताया कि अदालत ने सांसद के अधिवक्ता की आपत्ति को खारिज कर दिया है। जेल शिफ्टिंग को लेकर सांसद आजम खां के अधिवक्ता ने अदालत में आपत्ति दायर की थी। अधिवक्ता का कहना था कि सांसद और उनके परिवार को नियम विरुद्ध तरीके से सीतापुर जेल में शिफ्ट किया है। कोर्ट से इसकी अनुमति भी नहीं ली गई है।

गौरतलब है कि यह मुकदमा उनके बेटे अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाण बनवाने को लेकर है। इसी मुकदमे में हाजिर न होने पर कोर्ट ने तीनों की कुर्की के आदेश कर दिए थे। इसके बाद 26 फरवरी 2020 को सांसद, उनकी पत्नी और बेटे ने धोखाधड़ी के मामले में सरेंडर किया था। कोर्ट ने तीनों को न्यायिक अभिरक्षा में जिला कारागार रामपुर भेज दिया था। 27 फरवरी 2020 की सुबह पांच बजे ही तीनों काे सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया था।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top