अपना प्रदेश

कोरोना अपडेट: इस छोटे वैज्ञानिक के कायल हुए पुलिस के जवान, इस कार्य के लिए कहा धन्यवाद

वाराणसी। आवश्यकता ही अविष्कार की जननी होती है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के बीच कुछ ऐसे ही अविष्कार निकलकर सामने आ रहे हैं। महामारी के इस दौर में हर कोई खुद और अपने परिवार के लोगों को संक्रमण से बचाने में लगा है। ऐसे में कई ऐसे नायाब तरीके सामने आए हैं जिसका ईजाद सिर्फ कोरोना काल मे हुआ है। कक्षा 10वी में पढ़ने वाले एक युवक ने भी कुछ ऐसा ही अविष्कार किया जिससे लोगों को संक्रमण से बचाया जा सकता है। इस बच्चे ने फुल बॉडी ऑटोमेटिक सेनिटाइजर मशीन बनाई है। बच्चे के इस अविष्कार को सबसे पहले स्थापित किया गया कैंट थाने में।

मानव जब जोर लगाता है पत्थर पानी बन जाता है। दिल में जब कुछ कर गुजरने की इच्छा हो तो इंसान उसे करने के लिए किसी भी हद तक जाता है और अपनी मंजिल को पाकर ही दम लेता है। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है एक दसवीं के छात्र अभिषेक ने। इस नन्हे होशियार वैज्ञानिक ने घरेलू चीजों से पूरे बॉडी को सैनिटाइज करने की मशीन तैयार की है, जो ऑटोमेटिक है। अभिषेक ने बताया कि कोरोना के इस काल में लोग हाथों को सैनिटाइज कर लेते हैं, चेहरे को धूल लेते हैं, मगर कपड़े पर पकड़ संक्रमण फैल जाए तो फिर हाथ धोने का कोई फायदा नहीं। इसलिए हमने एक ऐसी मशीन बनाई है जो ऑटोमेटिक है और जैसे ही कोई इंसान इसके सामने आएगा वह इसे सैनिटाइज कर देगी। अभिषेक ने बताया कि बिजली के कार्यों में इस्तेमाल होने वाले पाइप को स्ट्रक्चर का रूप देकर उसे पॉलिथीन से ढक दिया गया और खेतों में दवा का छिड़काव किए जाने वाले नोजल को इसमें स्प्रे के लिए लगाया गया है। इसके साथ ही आरओ में इस्तेमाल होने वाले यंत्रों को भी इस्तेमाल किया गया है। अभिषेक ने बताया कि इसमें ऊपर की तरफ एक लाइट जलती है जो बैक्टीरिया और कीटाणुओं का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर लेती है। ठीक उस समय सैनिटाइजर का स्प्रे होता है और इससे सारे बैक्टीरिया और वायरस मर जाते हैं। अभिषेक ने बताया कि उसके इस काम में उसके अभिभावकों ने साथ ही शिवपुर की पुलिस टीम ने सहयोग किया है।

क्षेत्राधिकारी कैंट मुस्ताक अहमद ने बताया कि बच्चे की इस प्रतिभा को हमने जाया नहीं किया और इस सैनिटाइजिंग टनल को हमने थाने की मेन गेट पर लगवा दिया। जिससे जो व्यक्ति भी थाने में आता है वह सैनिटाइज होकर थाने में जाए और पुलिसकर्मियों के साथ-साथ वह भी संक्रमण मुक्त रहें। उन्होंने बताया कि अपने सर्किल के हर थाने पर इसी तरह के टनल को लगाने के लिए मैंने अभिषेक से कहा है और इसमें जो भी मदद लगेगी वह करने का वादा किया है। इस छोटे से बच्चे के अंदर इस तरह की प्रतिभा काबिले तारीफ है।

Most Popular

To Top