JAUNPUR : प्रधान और ग्राम पंचायत अधिकारी में छिड़ी जंग, जानें पूरा मामला

0
28

रिपोर्ट- नीरज सिंह

जौनपुर। जनपद में पिछले दिनों ग्राम प्रधान ने ग्राम पंचायत अधिकारी को कमरे में बंद करके पिटाई कर दी थी। इसके बाद ग्राम पंचायत अधिकारियों ने थाने का घेराव किया। इस पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आनन-फानन में ग्राम प्रधान के ऊपर सरकारी काम में बाधा डालने और एसी, एसटी का मुकदमा दर्ज कराया गया है, जिसको लेकर ग्राम प्रधान संघ ने सोमवार को डीएम को ज्ञापन सौपा है। ग्राम प्रधान संघ के अध्यक्ष ने बताया कि फर्जी तरीके से एसी-एसटी का मुकदमा दर्ज किया गया है, अगर फर्जी मुकदमे को लेकर प्रशासन की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई तो हम कलेक्ट्रेट परिसर में धरना प्रदर्शन करेंगे।

प्रधान संघ के सदस्यों ने एसी एसटी के मुकदमा के विरोध में सोमवार को कलेक्ट्रेट परिसर स्थित प्रधान संघ ने मिलकर डीएम को ज्ञापन सौपा है। प्रधान का कहना है कि हमे पूर्व विधायक व पूर्व सांसद की तरह पांच हजार रुपए मासिक पेंशन दिया जाए। साथ ही प्रधानों को टोल प्लाजा व ट्रेनों, बसों में फ्री पास दिया जाए। विधायक की तरह सुरक्षा दी जाती है। ऐसे में सभी ग्राम प्रधानों को असलहा का लाइसेंस प्रदान किया जाए और गांव में मनरेगा के तहत मजदूरी कम से कम 250 रुपये दिया जाए।

प्रधान संघ के अध्यक्ष मनोज यादव ने बताया कि अभी कुछ दिन पहले शासन व प्रशासन द्वारा फर्जी तरीके से ग्राम प्रधान के ऊपर एसी एसटी का झूठा केस लगया गया है। उन्होंने कहा कि जब तक जांच न हो जाए, तब तक एसी एसटी का मुकदमा दर्ज नहीं किया जा सकता। मनोज ने कहा कि छुट्टा पशु जो छोड़े जा रहे हैं। वो प्रधान का काम नहीं है। हम जनता के नौकर है। सरकार के नौकर नहीं है। अगर प्रशासन सही प्रतिक्रिया 10 दिन के अंदर नहीं देती है तो हम कलेक्ट्रेट परिसर में धरना प्रदर्शन करेंगे।