VARANASI: PAC री-मेडिकल टेस्ट में घूस लेकर पास कराने के मामले में दो अभियुक्त गिरफ्तार

0
48

वाराणसी। पीएसी के री- मेडिकल टेस्ट में असफल अभ्यर्थियों से घूस लेकर पास कराने के मामले में कैंट पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गए अभियुक्त में एक डॉक्टर समेत दो लोग और हैं। बता दें कि गिरफ्तार किया गया डॉक्टर पंडित दीनदयाल राजकीय चिकित्सालय में कार्यरत है। पुलिस ने इसके खिलाफ भ्र्ष्टाचार के संबंध में पंजीकृत मुकदमा संख्या 1512 /19 दिनांक 7 /8 /13 के भ्र0 नि0 अ0 – 1988 व धारा 120 बी /420 धाराओं के तहत कैंट थाने में मुकदमा दर्ज किया था।  

आपको बता दें कि पीएसीके री-मेडिकल टेस्ट में असफल अभियुक्तों  को घूस लेकर पास कराने के मामले में  वाराणसी के कैंट थाने में दर्ज  मुकदमे में फरार चल रहे डॉ. समेत दो अभियुक्तों को कैंट पुलिस ने आज सुबह गिरफ्तार कर लिया। अभी इस मामले कबीरचौरा में तैनात डॉ. एस के पाण्डेय समेत चार लोग अभी फरार चल रहे हैं, वहीं पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर शातिर अभियुक्त डॉ.  शिवेश जायसवाल और आकाश बेनवंशी ने बताया कि पीएसी के री- मेडिकल में असफल अभ्यर्थियों को पास कराने के लिए दोनों अभियुक्तों ने लाखों का लेनदेन किया था। गौरतलब है कि इसके पहले भी डॉ. शिवेश जायसवाल के यहां काम करने वाले लगभग दस वर्षीय बच्चे की लिफ्ट में फंस के मौत हो गयी थी, जिसके चलते डॉ. शिवेश जायसवाल 24 दिन  जेल में रहकर जमानत पर रिहा होकर बाहर आये थे।

वहीं पुलिस ने बताया कि कबीरचौरा में तैनात डॉ.एस के पांडेय समेत चार लोग अभी फरार हैं। एसपी सिटी दिनेश सिंह ने अपने कार्यालय में पूरे मामले में खुलासा करते हुए बताया कि गिरफ्तार डॉ. शिवेश जायसवाल से पूछताछ पर कई और लोगों का नाम प्रकाश में आया है। विवेचना के दौरान उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।