वाराणसी

आज की प्रशासनिक/राजनैतिक गतिविधि: वाराणसी में डीएम के.आर.शर्मा ने ग्राउंड जीरो पर काम करते हुए, PM और CM के मिशन को सफल बनाने के लिए भी बहाया पसीना

वाराणसी। नवरात्रि के पहले दिन प्रदेश के मुखिया योगी ने मिशन शक्ति की शुरुआत की। इसी कड़ी में जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा द्वारा आज कैम्प कार्यालय पर महिला सशक्तीकरण में एनजीओ की सहभागिता पर पदाधिकारियों के साथ मंथन किया गया। महिलाओं और बच्चों के प्रति जागरूकता फैलाने और उनकी सामाजिक सुरक्षा व सम्मान का स्तर ऊपर उठाने की जरूरत पर जोर दिया गया।

जिलाधिकारी ने पदाधिकारियों से कहा कि प्रशासन द्वारा आंगनवाड़ी के माध्यम से महिला और बच्चों की देखभाल के साथ ही स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वचछता आशा, एएनएम व प्रशिक्षित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा किया जाता है। उन्होंने एनजीओ का आह्वान करते हुए आंगनवाड़ी के साथ मिलकर एक-एक परिवार के कुपोषित बच्चों को एडाप्ट करने की बात कही। वे अभिभावकों की काउंसिलिंग करने, बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण तथा उन्हें पौष्टिक खाद्य सामग्री उपलब्ध करा सकते हैं। बच्चों के घर जाकर माता-पिता को समझाने जागरुक करने  के साथ ही कुपोषित बच्चों को 15 दिन की पौष्टिक खाद्य सामग्री देने का कार्य कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री द्वारा 2025 तक देश को टीबी मुक्त देश बनाने के लिए लक्ष्य दिया है इस दिशा में जनपद में टीबी से ग्रसित बच्चों को गोद लेकर उनको नियमित दवा खाने तथा अच्छे स्वास्थ्य के लिए उन्हें भी गोद लेने और पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी ली जा सकती है।बच्चों को टीबी मुक्त करने से आगे रोग आगे पीढ़ी तक नहीं बढ़ेगा और  धीरे-धीरे टीबी को देश से समाप्त किया जा सकेगा।

जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने आज विकास खण्ड सेवापुरी के सुइलरा गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में चौपाल लगाकर संतृप्तीकरण के कार्यों की समीक्षा की। गांव के लोगों द्वारा सफाई व्यवस्था पर सवाल उठाये गये जिसपर गांव के सक्षम लोगों को स्वयं आगे आकर साफ-सफाई, शौचालय के प्रयोग व ओडीएफ आदि के कार्यों को शत प्रतिशत सुनिश्चित करने में सहयोग देने को जिलाधिकारी ने कहा।

 उन्होंने कहा कि लोगों के व्यवहार में परिवर्तन लाना आदर्श गांव के निर्माण की नींव जैसा कार्य है। प्रत्येक सफाई कर्मी का रोस्टर गांव में जगह जगह चस्पा करने का निर्देश दिया जिससे किस दिन गांव की किस गली मोहल्ले की सफाई की जायेगी लोगों को पता रहे। कूड़ा उठान प्रतिदिन किये जाने का निर्देश दिया। निगरानी समिति द्वारा कूड़ा इधर उधर ना फेंकने के लिए जागरूक करने, लोगों को शौचालय प्रयोग को प्रोत्साहित करने तथा खुले में शौच से रोकने का कार्य किया जाये। इस कार्य में स्कूली बच्चों, बुजुर्ग समझदार लोगों का सहयोग लेने को कहा।

सेवादल की युवा पथिक/ वालेन्टियर प्रियंका कुमारी ने शिक्षा अभियान में माता-पिता की जागरूकता करने, बच्चों को स्कूल भेजने तथा किस कक्षा के बच्चों को क्या पढ़ा रही है इसकी जानकारी दी। स्वच्छताग्रही गुलाब से साफ सफाई के कार्य में किस तरह सहयोग कर रहे पूछा गया। स्वास्थ्य सेवा दल पोषण मिशन की आरती से पूछा गया कि किस प्रकार स्वास्थ्य सेवायें दे रही हैं।

जिलाधिकारी द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी तथा आंगनबाड़ी, एएनएम व आशा के कार्य  में सहयोग के बारे में पूछताछ की ।सीडीपीओ द्वारा बताया गया कि किशोरियों हर माह की 8 तारीख को किशोरी दिवस पर सेनिटेशन और स्वास्थ्य की जानकारी दी जाती है।  मौके पर गांव की राधा की बच्ची को जिलाधिकारी ने देखा जिसके बारे में सीडीपीओ ने बताया कि 1 माह से गुड़, चना, हॉर्लिक्स व पौष्टिक चीजें दी गई जिससे कुपोषित रागिनी का वजन एक किलोग्राम बढ़ गया।

आगामी मंगलवार एवं बुधवार को कैंप लगाकर खाता खुलवाने हेतु गांव के सेक्रेटरी को निर्देशित किया। गांव के प्रगतिशील किसानों के बारे में जिला कृषि अधिकारी से पूछा तथा मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लाभार्थी से कार्ड मंगवा कर देखा। डीएओ ने बताया कि किसान सम्मान योजना में 178 किसानो को लाभान्वित किया गया है।

जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित किया की गांव के केवल 10 किसानों के स्वायल कार्ड के आधार पर अन्य किसानों को भी इसकी जानकारी दें तथा किसान पाठशाला आयोजित करें। पराली जलाने व कूड़ा जलाने पर रोक के बारे में किसानों को जानकारी देने पर जोर दिया गया  मौके पर पुलिस के अधिकारी को निर्देशित किया कि पराली निस्तारण की कम्बाइंड मशीन का संचालन बिना एसएमएस अटैच किये कोई न चलाने पायें अन्यथा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाय।

 उन्होंने एबीएसए तथा बीडीओ को जिम्मेदारी देते हुए स्वयं सहायता समूह द्वारा स्कूल ड्रेस सिलने का कार्य करने के लिए और  गांव की महिलाओं को ट्रेनिंग दिलवाने का निर्देश दिया जिससे अन्य गांव की महिलायें भी जीविकोपार्जन कर सकें और मांग के अनुसार बच्चों के स्कूली ड्रेस उपलब्ध हो सकें। जिलाधिकारी ने सेवापुरी ब्लाक के सभा कक्ष में सभी ग्राम पंचायत अधिकारी तथा ग्राम विकास अधिकारियों की बैठक करते हुए उनको गांव की चौपाल में पायी गयी कमियों की जानकारी दी और कहा कि अवशेष 15 दिनों में बचे हुए कार्यों को पूरा करायें।

क्षतिग्र्रस्त शौचालयों को ठीक कराने, व्यवहार परिवर्तन के कार्य और प्रभावी ढ़ग से कराने,  सफाई कर्मी के रोस्टर गांव में जगह-जगह लगवाने तथा स्वास्थ्य, शिक्षा, सफाई आदि के अवशेष कार्यों को पूरा करायें। जिलाधिकारी द्वारा मौके पर उपस्थित सभी बच्चों, माताओं, बुजुर्गों सहित सभी को स्वच्छता रखने का संदेश देते हुए हाथ धोने के लिए साबुन वितरण किया गया।

 

वहीं सीएमओ की तरफ से दिन भर की कोविड-19 को लेकर तीन बुलेटिन डाला गया।

Most Popular

To Top