लेखपालों का तीन दिवसीय प्रदेशव्यापी धरना जारी, सरकार के सामने रखा 8 सूत्री मांग

0
33

वाराणसी/जौनपुर। उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ द्वारा 8 सूत्री मांगों को लेकर जनपद के तहसील परिसर में कलम बंद कर लेखपालों द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया। अपनी 8 सूत्री मांगों को लेकर सभी लेखपाल शिवपुरी स्थित सदर तहसील में धरने पर बैठे। इस दौरान लगभग 50 की संख्या में महिला पुरुष लेखपाल धरने में उपस्थिति दर्ज कराते हुए सरकार से अपनी 8 सूत्री मांग की। प्रदेशव्यापी धरने के अंतर्गत यूपी के अलग-अलग जिलों में लेखपालों द्वारा डरना प्रदर्शन किया जा रहा है। 

लेखपाल संघ के मंत्री शिव शंकर ने कहा कि यदि सरकार हमारी मांग पूरी नहीं करती है तो हम एक बड़ा आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।  शिव शंकर ने बताया कि हमारा आज का धरना प्रदर्शन ही तहसील पर समाप्त होगा और फिर 10 से 13 तारीख तक संपूर्ण तहसील पर चलेगा।और 13 से 27 तारीख तक जिला मुख्यालय धरना प्रदर्शन करना सुनिश्चित किया गया है। वहीं जौनपुर उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ द्वारा 8 सूत्री मांगों को लेकर जनपद के तहसील परिसर में भी लेखपालों द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया।

लेखपालों का कहना था कि हमारा जो एसीपी एवं पेंशन विसंगति पदनाम परिवर्तन वेतन भत्ता प्रमोशन आदि मांगों को लेकर हम लोग पिछले कई वर्षों से प्रदेश स्तरीय धरना प्रदर्शन कर रहे हैं पर अभी तक हमारी सुनवाई नहीं की गयी। आज से हम लोग धरना प्रदर्शन शुरू कर रहे है। अगर हमारी मांगे नहीं पूरी हुई तो 27 दिसंबर को हम लोगों द्वारा विधान सभा घेराव का काम किया जाएगा। यह धरना लगातार तीन दिन तक सभी तहसीलों में किया जाएगा। इसके बाद 13 से लेकर 26 तक जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा जिसके बाद 27 तारीख को पूरे उत्तर प्रदेश के लेखपाल विधानसभा का घेराव करेंगे। हमारी प्रमुख मांगों में एसीपी व पेंशन विसंगति हैं। हमारे यहां जो पेंशन एवं पे में भी विसंगति है किसी का 4200 ग्रेड पे तो किसी का 2800 पे है। हमारी मांग पुरानी पेंशन बहाली को लेकर भी है जिसे बहाल किया जाए।