मिर्जापुर। जिले के अरोरा क्षेत्र में चिरैया पहाड़ पर मवेशी चराने गए बच्चे खनन से बने गड्ढे में नहाते समय पानी में डूब गए। शनिवार को सुबह एक बच्चे का शव पानी में उतरा हुआ दिखाई दिया तो चीख-पुकार मच गई। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी, पुलिस ने गोताखोरों की मदद से दो सगी बहनों का शव भी बरामद कर लिया। इस मामले में तीन बच्चों के शव बरामद हुए हैं,जो मवेशी चराने गए थे और खनन के बाद हुए गड्ढे में पानी देखकर नहाने लगे। इस दौरान तीनों पानी में डूब गए।

जानकारी के मुताबिक चकजाता गांव निवासी प्रकाश पहाड़ पर मजदूरी का कार्य करता है। शुक्रवार को उसके बच्चे काजू (9), आकाश (ढाई), बेटियां राधिका (10) व खुशबू (8) पड़ोस की आरती (9) पुत्री सुग्रीव के साथ घर से गाय व बकरियों को चराने के लिए चिरैया पहाड़ की ओर निकले थे। इस दौरान राधिका, काजू व खुशबू पहाड़ पर खनन कार्य के बाद बने गड्ढे के भरे पानी में नहाने लगे। इसी बीच उनका पैर फिसला और तीनों गहरे पानी में डूब गए। तीनों बच्चे जब घर नहीं लौटे तो उनके परिजनों ने उन्हें तलाशने की कोशिश की। इसी बीच उन्हें काजू का शव पानी में दिखा, जिसके बाद चीख पुकार मच गई।

घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस दौरान पुलिस ने गोताखोरों की मदद से दोनों शव को बाहर निकाला और आगे की कार्रवाई में जुट गई है। परिजनों की मानें तो बच्चे कभी भी मवेशी चराने नहीं जाया करते थे, लेकिन स्कूल बंद होने के कारण वह मवेशी चराने चले गए और यह हादसा हो गया।

मवेसी चराने गए 3 बच्चे पानी में डूबे, परिवार में मचा कोहराम
To Top