धर्म / ज्योतिष

हनुमान चालीसा के ये अचूक मंत्र, आपकी परेशानियों का करेंगे अंत 

ब्यूरो डेस्क। हम सब के जीवन में कुछ ना कुछ परेशानी लगी रहती है, और जब लाख कोशिशों के बाद भी परेशानियों से छुटकारा नहीं मिलता तो हम भगवान की शरण में जाते हैं। कहते हैं कि हनुमान चालीसा के मंत्रों में व्यक्ति के हर कष्ट का निवारण छुपा हुआ है, अगर पूरे श्रद्धा से रोजाना हनुमान चालीसा पढ़ा जाये तो कोई कष्ट आपके पास नहीं आएगा।  हनुमानजी को मनाने और उनकी कृपा पाने का सबसे आसान और चमत्कारी उपाय हनुमान चालीसा का रोजाना पाठ करना है । हनुमान चालीसा के पथ से आप हर तरह के परेशानियों से आसानी के साथ छुटकारा पा सकते हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको हनुमान चालीसा के उन्ही मंत्रो को बताने जा रहे हैं।

जिन लोगों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हैं, जिनको धन का अभाव है या जिनके घर में पारिवारिक विवाद की परेशानियां चल रही हैं या फिर ऑफिस में बॉस और सहयोगियों से रिश्ते बिगड़े हुए हैं, ऐसे व्यक्तियों को अपने इन कष्टों को दूर करने के लिए हनुमान चालीसा का ये उपाय करना चाहिए –
संकट कटे मिटे सब पीरा। जो सुमिरें हनुमत बलबीरा ।

जो लोग दिमागी काम में लगे रहते हैं और मानसिक तनाव का सामना करते हैं या जिनका दिमाग अन्य लोगों की अपेक्षा तेज नहीं चलता है तो सोने से पहले हनुमान चालीसा के इस लाइन का जप करने से शांति मिलती है। इस श्लोक के द्वारा आपको बल,बुद्धि और साथ ही आपके कलेश दूर हो जायेंगे।आपका मन अपने काम में लगने लगेगा।
बुद्धिहीन तनु जानिके सुमिरो पवन कुमार। बल बुद्धि विद्या देहु मोहि हरेहू कलेश विकार।

जिन लोगों को बुरे सपने आते हैं, जो लोग नींद में डर जाते हैं उन्हें सोने से पहले रोजाना इन पंक्तियों का जप करना चाहिए। कुछ ही दिनों बाद आपको अपने अंदर फर्क महसूस होने लगेगा।जो भी व्यक्ति इस पंक्ति का जप करता है उसे न तो बुरे सपने आते हैं और न ही कोई भय सताता है।
भूत-पिशाच निकट नहीं आवे। महाबीर जब नाम सुनावे।

यदि कोई व्यक्ति भयंकर बीमारी से ग्रस्त है तो उसे सोने से पहले इस पंक्ति का जप करना चाहिए। इस लाइन में हम बजरंग बली से सभी प्रकार के रोगों और पीड़ाओं से मुक्ति के लिए प्रार्थना करते हैं। जो भी बीमार व्यक्ति इन पंक्तियों का जप करके सोता है उसकी बीमारी जल्दी ही ठीक हो जाती है।
नासे रोग हरे सब पीरा। जो सुमिरे हनुमंत बलबीरा।

यदि कोई व्यक्ति सर्वगुण संपन्न बनना चाहता है और घर-परिवार, समाज में वर्चस्व बनाना चाहता है, सम्मान पाना चाहता है उसे सोने से पहले इस पंक्ति का जप करना चाहिए। फिर देखें की आपको कैसे सम्मान लोगों के बीच मिलने लगता है।
अष्ट-सिद्धि नवनिधि के दाता। अस बर दीन जानकी माता।

इस तरह से हनुमान चालीसा के इन मंत्रों के जाप से आपके सारे भय, कष्ट,रोग दूर हो जायेंगे,अगर आप के पास समय नहीं है तो अपने मोबाइल में रोजाना हनुमान चालीसा को सुनकर कर भी इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button