महिलाओं के लिए मिसाल बनी सब ​लेफ्टिनेंट शिवांगी

0
29

ब्यूरो डेस्क। भारतीय इतिहास में एक और नया अध्याय आज से जुड़ने जा रहा है। आज की नारी केवल घर तक ही सीमित नही रह गयी है। आज वह हर क्षेत्र में आगे आकर अपना योगदान दे रही है। ​चाहे बात शिक्षा जगत की हो या ​फिर संसद में भागीदारी,खेल जगत से लेकर मनोरंजन जगत तक महिलाओं ने अपना लोहा मनवाया है।

नौसेना में शिवांगी ने देश की पहली महिला पायलट बन कर सभी महिलाओं के लिए एक मिसाल कायम की है। सब लेफ्टिनेंट शिवांगी आज से पहली महिला पायलट के रूप में अपना कार्यभार संभालेंगी। कोच्चि में अपनी ऑपरेशन ट्रेनिंग पूरी करने के बाद आज से वह फिक्सड विंग सर्विलांस डोर्नियर विमानों को उड़ाएंगी।

शिवांगी स्वरूप का जन्म बिहार के मुजफ्फरपुर शहर में हुआ। शिवानी ने अपनी सीबीएसई 10वीं की परीक्षा साल 2010 में डीएवी पब्लिक स्कूल से पास किया था और इसमें उन्हें सीजीपीए मिले थे। 12वीं की परीक्षा इन्होंने विज्ञान विषय से दी और इसके बाद इन्होंने इंजीनियरिंग में प्रवेश लिया। एमटेक में प्रवेश के बाद एसएसबी का एग्जाम दिया,जिसके द्वारा वह नौसेना में सब लेफ्टिनेंट के रूप में चुनी गयी। कोच्चि में ट्रेनिंग पूर्ण करने के बाद यह पद इन्हें दिया गया।