अपना प्रदेश

खेतों में जलाया पराली तो होगी कड़ी कार्रवाई, शासन ने अधिकारियों को भेजा निर्देश

ब्यूरो डेस्क। खेतों में पराली जलाने वालों के विरुद्ध सरकार कार्रवाई करने के मूड में आ चुकी है। पराली जलाने से बढ़ते वायु प्रदूषण को रोकने के लिए सरकार पहले से ही सतर्क है। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने इस बाबत अधिकारियों को निर्देशित किया है कि, गांव के लोगों को जागरूक किया जाए। इसके साथ ही लाउडस्पीकर और पोस्टरों के माध्यम से गांव-गांव तक प्रचार-प्रसार किया जाए। इसकी मॉनिटरिंग के लिए टीमें गठित की जाए और इस तरह का कृत्य कहीं भी होता है तो ग्राम प्रधान की जिम्मेदारी तय कर कार्रवाई की जाए।

खेतों में पराली जलाने वाले लोगों के खिलाफ सरकार कड़े कार्रवाई करने के मूड में है। लोक भवन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्य सचिव ने मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि फसल काटने के बाद पराली को डीकंपोज कराने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि समय से पराली को गोवंश संरक्षण केंद्रों पर पहुंचाने की व्यवस्था भी की जाए। इसके साथ ही पराली जलाने की सूचना मिलते ही उस व्यक्ति के साथ-साथ ग्राम प्रधान की भी जिम्मेदारी तय कर कड़ी कार्रवाई की जाए। पराली जलने से बढ़ते वायु प्रदूषण को रोकने के लिए सरकार ने यह फैसला लिया है।

Most Popular

To Top