नवागत एसएसपी ने दिया संकेत, अपराध पर लगेगा अंकुश

0
34

रिपोर्ट- अनुज जायसवाल

वाराणसी। लॉ एण्ड ऑर्डर को मेंटेन करने के लिए प्रभाकर चौधरी को शासन द्वारा वाराणसी एसएसपी की कमान सौपी गई है, जिसको लेकर प्रभाकर चौधरी ने रविवार को चार्ज संभालते ही जनपदीय पुलिस को कार्य प्रणाली सुधारने के संकेत दे दिए हैं।

विगत कुछ माह से जिले में हो रही आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगा पाने में वाराणसी पुलिस पूरी तरह से फेल साबित होती दिखाई पड़ रही थी। इसको लेकर पुलिसिया कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किये जा रहे थे, जिसको गंभीरता से लेते हुए सरकार ने 22 आईपीएस अफसरों के तबादले करने के दौरान वाराणसी में भी फेरबदल किया और आनंद कुलकर्णी की जगह सोनभद्र के एसपी प्रभाकर चौधरी को वाराणसी पुलिस कप्तान नियुक्त किया।

वाराणसी पुलिस कप्तान का चार्ज लेने के बाद प्रभाकर चौधरी ने शासन की मंशा के अनुरूप यह साफ संकेत भी दे दिया है कि वह पुलिसिया कार्य प्रणाली में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे। पुलिस लाइन सभागार में आयोजित बैठक में एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा कि पुलिस की छवि को सुधारा जाएगा और थाने पर शिकायत करने जाने वालों को जो परेशानियों का सामना पुलिस वालों की तरफ से करना पड़ता है। उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि अंबेडकरनगर यूपी के रहने वाले प्रभाकर चौधरी 2010 बैच के आईपीएस हैं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से बीएसएसी करने के बाद उन्होंने एलएलबी की पढ़ाई की। सादगी पसंद और मृदुभाषी प्रभाकर चौधरी को अपराधियों के खिलाफ काफी सख्त माना जाता है।

वह बलिया, बुलंदशहर, कानपुर में एसपी के पद पर तैनात रह चुके हैं और दो महीने पहले ही उनकी तैनाती सोनभद्र में एसपी के तौर पर की गई थी। अब उन्हें वाराणसी के एसएसपी पद की जिम्मेदारी दी गई हैं। प्रभाकर चौधरी उस समय भी काफी चर्चा में आये थे, जब वह पीठ पर स्टूडेंट की तरह बैग टांगकर और रोडवेज बस में सवार होकर कानपुर एसपी का चार्ज संभालने पहुंचे थे।