MAU : कप्तान बने परीक्षक, उप निरीक्षकों का लिया TEST

0
25

मऊ। महत्वपूर्ण थानों पर नियुक्ति और पुलिसिया कार्यप्रणाली सुधारने के लिए जनपद मऊ में एसपी अनुराग आर्य ने एक पहल शुरू की। इसके अन्तर्गत उप निरीक्षकों का तीन तरीके से टेस्ट लिया गया,जिसमें ड्रिल टेस्ट, 30 मिनट में 3 किलो मीटर पैदल चाल, विवेचना से सम्बन्धित टेस्ट शामिल रहें। खास बात यह कि इसमें उत्तीर्ण होने वाले पुलिसकर्मियों को एसपी की ओर से विशेष प्रकार का तोहफा भी शामिल रहा।

एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि इन सभी टेस्ट में अच्छे नम्बर प्राप्त करने वाले निरीक्षक और उप निरीक्षकों को महत्वपूर्ण जगहों पर पोस्टिंग दी जायेगी। वहीं नियत नम्बर से कम नम्बर प्राप्त करने वालों को पुलिस लाईन में नियमित प्रशिक्षण दिया जायगा, जब तक वह प्रशिक्षित न हो जाये। एसपी ने अधिकारियों व कर्मचारियों से पुलिसिंग को बेहतर करने के लिए सुझाव भी लिये, जिसमें जेल से छुटे अपराधियों और आस पास के जिलों से आकर अपराध करने वाले अपराधियों को चिन्हित कर एक-एक अपराधी का एक-एक उप निरीक्षक द्वारा निगरानी रखने का सुझाव दिया गया।

पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि पुलिस लाईन में हर एक थाने से दो सब इंस्पेक्टर्स, पुलिस लाईन के सब इंस्पेक्टर्स और तीन इंस्पेक्टर्स को प्रशिक्षण दिया गया है। इसमें सभी के तीन तरह के टेस्ट लिए गए हैं। पहला ड्रिल टेस्ट, दूसरा आधे घंटे में 3.5 किलोमीटर चलने का टारगेट और तीसरा विवेचना ऑफिस संबंधित जानकारियों के संबंध में टेस्ट लिया गया। प्रशिक्षण में चार क्लासेज ली गई हैं, जिसमें जमीन संबंधी मामलों में पुलिस की भूमिका, शरीर सम्बन्धी अपराधों में पुलिस की भूमिका, 467, 468 ओर 471 के मामले। टेस्ट में अच्छा करने वाले अधिकारियों को अच्छी जगह पोस्टिंग दी जाएगी। पोस्टिंग अधिकारियों की फिटनेस, टेस्ट में अंक और मेडिकल टेस्ट के आधार पर की जाएगी।