राज्यपाल बोलती रहीं, अधिकारी जी सोते रहे 

0
30

रिपोर्ट- राहुल पांडेय

गाजीपुर। प्रदेश की योगी सरकार राज्य में सोई पड़ी विकास को जगा कर आगें ले जाने का कार्य कर रही है। वहीं  सरकारी अफसरों को काम के प्रति सीरियस होने के लिए भी बोल रही है । इसके बावजूद भी कुछ अफसर उनकी बातों को सुनने की जगह सोना ज्यादा सही समझते है। कुछ ऐसा हीं देखने को मिला। गाजीपुर जिले में यूपी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत लाभार्थियों को स्वीकृत पत्र वितरण कार्यक्रम के दौरान, जहां परियोजना निदेशक विजय वर्मा मंच पर सोते नजर आए। उस समय राज्यपाल आनंदी पटेल सम्बोधन कर रही थी। इनकी सोने की तस्वीर कैमरे में कैद हो गई ,लेकिन उनकी नींद नहीं टूटी।

अधिकारी के सोने का यह वीडियो सोमवार की शाम का है ,जहां जिला पंचायत सभागार में  मुख्यमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को स्वीकृत पत्र वितरण करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में डीएम ओमप्रकाश आर्या, सीडीओ हरिकेश चौरसिया, बीजेपी विधायक सुनीता सिंह और अलका राय के साथ-साथ परियोजना निदेशक विजय प्रकाश वर्मा मंच पर मौजूद थे। राज्यपाल द्वारा लाभार्थियों को स्वीकृत पत्र वितरण का लाइव प्रसारण  हो रहा था। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लाभार्थी भी मौजूद थे, लेकिन मंच पर बैठे परियोजना निदेशक विजय वर्मा को कार्यक्रम से मतलब ही नहीं था, न सीएम आवास योजना से उन्हें सिर्फ अपनी नींद पूरी करनी थी। मंच पर बैठे सीजीओ ने जगाया भी फिर भी वह सोते हीं रहे।

बीजेपी विधायक सुनीता सिंह से इसके बारे में पूछा गया तो वह कहती हैं कि पीछे की सरकार ने सोने का टाइम दिया था। यह सरकार जगाने का काम कर रही हैं। कुछ जाग गए हैं और कुछ को जगाया जा रहा है।