अपना देश

कोरोना अपडेटः COVID-19 को लेकर प्रियंका ने योगी सरकार को दी नसीहत, कही ये बातें

ब्यूरो डेस्क। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के बीच प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर ट्वीट कर उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ हमला बोला है। साथ ही उन्होंने कहा है कि उत्तर प्रदेश में टेस्टिंग को लेकर काफी लोग चिंता व्यक्त कर रहे हैं। कोरोनावायरस पारदर्शिता बड़े काम की चीज है। वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने 2 दिनों में जितनी भी जांच की है उसकी संख्या बताना बंद कर दी है। जबकि पूरी दुनिया जान चुकी है कि ढंग से और ज्यादा से ज्यादा जांच से ही कोरोना को रोका जा सकता है।

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर कोरोनावायरस को लेकर कई हमले किए हैं, जिसमें उन्होंने कहा है कि टेस्टिंग को लेकर पूरी तरह से पारदर्शिता होनी चाहिए। ताकि जनता को जानकारी मिले और इस महामारी के खिलाफ समाज और प्रशासन एकजुट होकर लड़ पाए। आंकड़ों और सच्चाई को छुपाने से समस्या बढ़ सकती है। उत्तर प्रदेश सरकार इसे जितनी जल्दी समझ जाए उतनी ही बेहतर है। उन्होंने योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि प्रदेश में किस लैब में रोज कितने टेस्ट हो रहे हैं, केजीएमयू सहित प्रदेश के अन्य स्टिंग लैब की प्रतिदिन छमता क्या है, यह आंकड़ा जानना जनता के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। वहीं उन्होंने कहा है कि उत्तर प्रदेश में पूल टेस्टिंग के नाम से कई दर्जन लोगों की जांच एक ही कीट से कर दी जा रही है, जबकि हेल्थ एक्सपर्ट ने इस प्रक्रिया के लिए सख्त नियम तय किए हैं। जिसका सही पालन ना होने से नुकसान भी हो सकता है।

वहीं प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार को सुझाव देते हुए कहा है कि करंट टाइम सेंटर में डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन फॉलो करना बहुत ही महत्वपूर्ण है। क्वॉरेंटाइन केंद्रों में भोजन व नाश्ते की स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा प्रतिदिन जांच और केंद्र की स्वच्छता की रिपोर्ट जारी होनी चाहिए। उन्होंने सरकार से मांग की है क्वॉरेंटाइन की अवधि पूरी होने पर घर भेजें जाने के पश्चात व्यक्तियों की दोबारा जांच कराने की योजना जनता को स्पष्ट करनी चाहिए।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top