ब्यूरो रिपोर्ट। दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के साथी जय बाजपेई को आख़िरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ये वही जय बाजपेई है जिस पर जरायम की कमाई को अलग-अलग धंधों में लगाने के आरोप लगे हैं। रविवार को आखिरकार जय बाजपेई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात दुर्दांत विकास दुबे और उसके गुर्गो ने 8 पुलिसकर्मियों की बेरहमी से हत्या कर दी थी। एक एसओ और 5 सिपाही समेत 7 लोगों को गंभीर रूप में घायल कर दिया था। घटना के दूसरे दिन काकादेव पुलिस ने विजय नगर चौराहे से तीन लग्जरी गाड़ी लावारिस हालत में बरामद की थी। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि तीनों गाड़ियां ब्रह्मनगर निवासी जय बाजपेई इस्तेमाल करता था।

जय बाजपेई और विकास दुबे की फोटो वायरल होने के बाद से पुलिस जय को खोज रही थी। आखिरकार रविवार देर रात जय बाजपेई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जय के अलावा विकास के साथी प्रशांत शुक्ला को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस की माने तो जय बाजपेई ने विकास दुबे को 2 जुलाई वाली घटना के दिन 2 लाख रूपये और 25 रिवाल्वर कारतूस की मदद की थी। इतना ही नहीं विकास और उसके गुर्गे को भगाने के लिए जय ने अपनी लग्जरी गाड़ियां भी दे रखी थी। पुलिस ने जय के विरुद्ध धारा 29/30 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है।

विकास दुबे के खजांची को पुलिस ने किया गिरफ्तार, खुलेंग अब कई राज
To Top