अपना प्रदेश

महाशिवरात्रि पर बाबा के दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब

वाराणसी। शिव की नगरी के नाम से मशहूर काशी में शिवरात्रि के दिन भक्तों की भीड़ श्री काशीविश्वनाथ के दर्शन के लिए उमड़ पड़ी है। देर रात से ही भक्त उनके आराध्य देव भगवान शिव के दर्शन के लिए लाइन में लगे है। पूरी काशी ओम नमः शिवाय के जयकारों से गूंज उठी है। उधर भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन भी मुस्तैद है। इस बार भारी भीड़ को देखते हुए मंदिर के गर्वगृह में जाकर दर्शन के बजाय झांकी दर्शन की व्वयस्था की गई है।

शुक्रवार के दिन सुबह से ही भक्त पंक्तियों में खड़े होकर भगवान भोलेनाथ के दर्शन के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। शुक्रवार की मंगला आरती के बाद से शनिवार की मध्यरात्रि तक का समय भक्तों के लिए ही होगा। शुक्रवार को महानिशा में चार प्रहर की आरती होगी और काशी पुराधिपति भी 44 घंटे तक अनवरत भक्तों को दर्शन देंगे। जलाभिषेक और दुग्धाभिषेक गर्भगृह के प्रवेश द्वार पर लगे पात्र में किया जाएगा।

मंदिर प्रशासन के अनुसार, नई व्यवस्था के तहत गर्भगृह के चारों प्रवेश द्वारों पर पात्र लगाए गए हैं। अलग-अलग दिशाओं से आने वाले श्रद्धालु प्रवेश द्वार पर स्थित पात्र में जल और दूध चढ़ाकर दर्शन करेंगे। पूर्वांचल भर से श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला देर रात तक चलता रहा। मंदिर परिक्षेत्र से घाट तक गलियां श्रद्धालुओं से पटी गईं। मंदिर परिक्षेत्र में लगाई गई बैरिकेडिंग में श्रद्धालुओं ने अपनी-अपनी जगह घेर ली।

इस बार सुगम दर्शन के लिए टिकट नही मिल पायेगा। जिनलोगों ने पहले से टिकट बुक किया है सिर्फ उन्हें ही इस सुविधा का लाभ मिल पायेगा। उधर प्रशासन ने भी उमड़ने वाली भीड़ को देखते हुए भारी पुलिस बल की तैनाती के साथ रुट डाइवर्ट किया है। साथ ही सादे कपड़ों में पुलिस के जवान लोगों की गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top