अपना प्रदेश

विश्वविद्यालय प्रशासन की धांधली से आक्रोशित छात्रों ने किया कुलपति का पुतला दहन

 

रिपोर्ट- नीरज सिंह

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की पीएचडी परीक्षा मेंअभ्यर्थियों को परीक्षा परिणाम में उत्तीर्ण करने के एक सप्ताह बाद विश्वविद्यालय द्वारा उन्हें दोबारा अनुत्तीर्ण कर दिया गया था, इससे नाराज छात्रों ने रोडवेज तिराहे पर पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति का प्रतीकात्मक पुतला दहन कर अपना आक्रोश जताया है। 

बता दें कि पिछले दिनों पी०एच०डी० संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पीड़ित अभ्यर्थियों का लगातार कुलपति के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है। लगातार कई दिनों से ये छात्र  जगह जगह विरोध कर रहे है। इसी कड़ी में छात्रों ने रोडवेज तिराहे पर कुलपति के प्रतीकात्मक पुतले को दहन कर कुलपति के विरुद्ध नारे लगाकर अपना आक्रोश जाहिर किया।

पीएचडी संघर्ष मोर्चा के प्रतिनिधि दिव्यप्रकाश सिंह ने कहा कि जिस तरह से दशहरा के शुभ अवसर पर पूरा देश खुशी मना रहा है। वहीं हम नौजवान इस अहंकारी भ्रष्ट कुलपति का पुतला दहन कर ये बता देना चाहते है कि रावण और पूर्वांचल कुलपति में कोई अंतर नहीं है। छात्रहित के हनन को हम कत्तई बर्दास्त नही करेंगे। हम छात्रों के साथ जो पूर्वनियोजित अन्याय हुआ है। हम सबके साथ हुई बड़ी साजिश को राज्यपाल उत्तर प्रदेश तक पहुंचाने के लिए विरोध स्वरूप आज प्रतीकात्मक पुतला दहन किया गया है।

वहीं सपा नेता अतुल सिंह व अधिवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय के पीड़ित पीएचडी परीक्षा अभ्यर्थीयों की बात कुलपति नहीं  सुन रहे हैं। हम सबने पीएचडी परीक्षा परिणाम में हुई भारी धांधली से जिलाधिकारी जौनपुर को भी अवगत कराया, लेकिन किसी प्रकार की कोई कार्यवाही व मदद इन पीड़ित अभ्यर्थीयों की नहीं  की गयी। साथ ही जनपद के सभी जनप्रतिनिधि व जिम्मेदार लोग उक्त प्रकरण पर मौन साधे हुए हैं । ऐसे में अपनी आवाज राज्यपाल उत्तर प्रदेश तक पहुंचाने का कोई दूसरा  विकल्प नजर नहीं आ रहा है। इसलिए हम सब कुलपति महोदय के प्रतीकात्मक पुतला दहन करने को मजबूर हैं और जब तक हमारी मांगों पर माननीया राज्यपाल उत्तर प्रदेश द्वारा अमल नहीं कर लिया जाता है, तब तक हम पीएचडी संघर्ष मोर्चा के साथ अपना क्रमिक विरोध प्रदर्शन व आंदोलन जारी रखेगें।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top