अपना प्रदेश

बलिया: 27 गांवों के 29 हजार लोग बाढ़ में फंसे, रेस्क्यू जारी

बलिया। लगातार बढ़ रही गंगा नदी ने खतरे का निशान पार कर दिया है। बाढ़ ने गांवों और शहर के निचले हिस्से को जद में ले लिया है। पानी के लगातार बढ़ने की वजह से प्रशासन ने बलिया से बैरिया तक के नेशनल हाईवे को बंद कर दिया है। वहीं बलिया के 27 गांवों के 29 हजार लोग प्रभावित हैं।

बता दें कि नेशनल हाईवे सड़क के किनारे से गंगा नदी की उफनाती लहरें लगातार हाईवे पर दबाव बनाती जा रही है। ऐसे में नेशनल हाईवे के टूटने का खतरा बढ़ गया है, जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने नेशनल हाईवे पर भारी वाहनों के संचालन पर रोक दी है। साथ ही बलिया से बैरिया तक मार्ग परिवर्तित कर दिया गया है।

बाढ़ पीड़ित 3 हजार लोग राहत शिविर में शरण लिए हुए हैं। जिनको निकालने के लिए एनडीआरफ की दो टीमें रेस्क्यू में जुटी हुई है। रेस्क्यू कर के करीब 500 लोगों को निकाला जा चूका है। वहीं गंगा नदी 1 सेंटीमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रही है, जिससे प्रशासन के हाथ पांव फूलने लगे है।

वहीं जिले में पहुंचे प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि शहर की सदर तहसील क्षेत्र और बौरिया तहसील क्षेत्र के कुल 27 गांव के 30 हजार लोग प्रभावित हैं। करीब तीन हजार लोग बाढ़ रहात शिविरों में शरण लिए हुए हैं। उनके लिए रोज के दिनचर्या के हिसाब से चावल, गेंहू, प्लास्टिक, सब्जी और ब्रेड की व्यवस्था की गई है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top