अपना प्रदेश

बच्चों से लोग पूछ रहें पापा को नौकरी से क्यों निकाला’

वाराणसी। होमगार्डों के बच्चों से लोग पूछ रहें कि तुम्हारे पापा को आखिर नौकरी से क्यों निकाला गया। शर्म के कारण घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं। यह कहना है अवैतनिक अधिकारी कर्मचारी एसोसिएशन के महामंत्री कृष्ण प्रजापति का। दरअसल प्रदेश सरकार द्वारा 25 हजार होमगार्डों को हटा दिया गया है,जिसके बाद बुधवार को होमगार्डों ने वाराणसी के जिला मुख्यालय पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

कृष्ण प्रजापति का कहना रहा कि जब योगी सरकार आई और अनिल राजभर को होमगार्ड मंत्रालय सौपा गया, तो उन्होंने हमारे लिए बहुत काम किया, लेकिन आज अचानक से कुछ अधिकारियों के दबाव में आकर सरकार ने यह फैसला ले लिया। उनका कहना रहा कि आज हमारे बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं, क्योंकि दूसरे बच्चे और लोग उनसे पूछ रहें हैं कि तुम्हारे पापा को आखिर क्यों निकाल दिया गया। हम घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं क्योंकि रिश्तेदारों के सामने मुंह छिपाना पड़ रहा है।

कृष्ण प्रजापति का कहना रहा कि अगर सरकार हमें पुन: बहाल कर कार्य पर नहीं रखती है, तो हम सब दीपावली के दिन ही सिर पर कफन बांध परिवार के साथ गोरक्षपीठ धाम पहुंचेंगे। अब वहां हमें सरकार मिठाई दे या डंडे। वहीं उत्तर प्रदेश होमगार्उ एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रविकांत त्रिपाठी का कहना रहा कि सरकार का यह फैसला निन्दनीय है जिसका हम सब पुरजोर विरोध करते हैं। इस फैसले के बाद 41 हजार 519 होमगार्डों के परिवार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं।

बता दें कि होमगार्ड विभाग के मंत्री चेतन चौहान ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि किसी भी होमगार्ड को हटाया नहीं जाएगा, इस संबंध में उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों से भी बातचीत की हैं। मंत्री चेतन चौहान ने यह भी कहा है कि पुलिस विभाग अगर 25 हजार होमगार्डों को हटा रहा है तो होमगार्ड विभाग उन्हें कहीं न कहीं लगा देगा, हो सकता उनके काम के दिन कम हो जाएं। पुलिस विभाग से भी कहा है कि आप भले ही इनके काम के दिन कम कर दें लेकिन इन्हें रखे रहें, इन्हें निकाले नहीं।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top