काशी में यहां बसते हैं पाकिस्तानी महादेव

0
23

रिपोर्ट- अनुज जायसवाल

वाराणसी। पाकिस्तान का नाम आते ही भारतीयों में दुश्मन देश की छवि कौंध उठती है, लेकिन काशी में पाकिस्तान के नाम से एक अलग ही छट्टा देखने को मिल रही है, जी हां हम बात कर रहे है। गायघाट के समीप शीतला घाट पर स्थित एक मंदिर की, जिसका नाम पाकिस्तानी महादेव है।

जानकारी के अनुसार नगर निगम से लेकर अन्य सरकारी दस्तावेजों में महादेव का यह मंदिर पाकिस्तानी महादेव के नाम से दर्ज है। बता दें कि आजादी के बाद बंटवारे के दौरान यह शिवलिंग एक हिन्दू परिवार अपने साथ लाहौर से लाया था।

स्थानीय पूर्व पार्षद घनश्याम सिंह बताते हैं कि जब देश का बंटवारा हुआ, तो लाहौर में रहने वाले सीताराम मोहानी काशी पहुंचे थे। उनके पास यह शिवलिंग था, जिसे वह गंगा में प्रवाहित करना चाहते थे, लेकिन स्थानीय लोगों के अनुरोध पर उन्होंने इसे शीतला घाट पर स्थापित कर दिया। इसके बाद इस मंदिर का नाम पाकिस्तानी महादेव पड़ा।

मंदिर की देखरेख करने वाले स्थानीय नागरिक अजय शर्मा ने बताया कि कुछ वर्षों बाद उनके रिश्तेदार यमुना दास ने यहां मंदिर का निर्माण कराया। इसी के साथ ही इनका नाम पाकिस्तानी महादेव पड़ गया। वहीं सावन में महादेव के दर्शन के लिए काफी संख्या में लोग यहां पहुंचते है।