वोटरों को लुभाने के लिए मंत्री ने गिनायी सरकार की ये उपलब्धियां

0
18

मऊ। उत्तर प्रदेश के मऊ जनपद में होने वाले घोसी विधानसभा के उपचुनाव का चुनावी घमासान अंतिम दौर में है। शनिवार की शाम से नेताओं के चुनावी प्रचार बंद हो जाएंगे। चुनाव प्रचार के बंद होने से पहले प्रदेश सरकार में मंत्री मोहसिन रजा ने भाजपा प्रत्याशी विजय राजभर के लिए मतदाताओं से मतदान करने की अपील करने पहुंचे। मतदाताओं से अपील के दौरान बीजेपी मंत्री मोहसीन रजा ने मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए बयान भी दिया कि उनके समाज के लिए अगर किसी राजनीतिक दल ने कुछ किया है तो वह सिर्फ भाजपा है।  

घोसी विधानसभा उपचुनाव के चुनावी घमासान पर अगर नज़र डालें तो यह सीट खास सीट है क्योंकि यहां से भाजपा विधायक फागू चौहान को बिहार का राज्यपाल बना दिया गया, जिसके बाद से यह सीट खाली हो गयी है। बीजेपी इस सीट को जीतने के लिए राजनीतिक बिसात को पूरी तरह से बिछा चुकी है। यहां के जातीय समीकरण को साधने को लिए बीजेपी ने सभी समाज से आने वाले मन्त्री और राजनीति के बड़े चेहरों को प्रचार में उतारने का काम किया है।

इस सीट पर सबसे ज्यादा मुस्लिम वोटर हैं जिनकी संख्या 85 हजार से अधिक है। दूसरे नंबर पर दलित वोटरों की संख्या लगभग 75 हजार है। तीसरे नंबर पर 58 हजार यादव हैं, चौथे नंबर पर राजभर 54 हजार हैं तो वहीं 44 हजार चौहान वोटर हैं, हालांकि इस सीट पर ब्राम्हण 5 हजार, राजपूत 15 हजार और भूमिहार 8 हजार है।

जातीय समीकरण को फिट करने के लिए बीजेपी ने अलग-अलग जातियों से आने वाले मंत्री-विधायकों को चुनावी कैम्पेनिंग में लगाया है। इसी क्रम में समीकरण को साधने के लिए बीजेपी सरकार के मंत्री मोहसीन रजा भी घोसी के घमासान में अपने समाज के मतदाताओं को लुभाने के लिए पहुंचे और अपने समाज के लोगों को समझाया तो जो इलाके के मुस्लिम चेहरा सपा- कांग्रेस की तरफ दिखाई पड़ते थे वह बीजेपी के नारे लगाने लगे।