बोले केन्द्रीय मंत्री, माफी मांगे युवराज

0
20

वाराणसी। काशी दौरे पर केंद्रीय मंत्री डॉ. महेन्द्र नाथ पांडेय शहर स्थित सर्किट हाउस पहुंचे, जहां उन्होंने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा, तो वहीं शिव सेना को भी आड़े हाथ लिया। महेन्द्र नाथ पांडेय ने कहा कि देश के सबसे पुरानी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने देश के स्वतंत्र होने के लिए जो सबसे अधिक कष्ट भोगे ऐसे वीर सवरकर के लिए और उस बहादुर सावरकर जी के लिए इतनी हल्की टिप्पणी के बाद इंडिया के बारे में शब्दावली का गलत प्रयोग हठधर्मिता की हद हो गयी है। उन्होंने कहा कि मेरी सलाह है की राहुल गांधी इन दोनों बातों के लिए माफी मांगे वरना उनके इन कर्मों से कांग्रेस जो अभी तक डूबी है और अधिक डूब जाएगी।

महेन्द्र नाथ पांडेय ने कहा कि सावरकर के पोते कह रहे है कि सरकार को इस पर कठोर कारवाई करनी चाहिए।इस सवाल पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार सावरकर जी का इतना सम्मान करती है और अभी हम सब की पहल है कि राहुल माफी मांगे ओर इसके बाद भी वह नहीं मांगते तो हम सब सावरकर जी के पौत्र के भावनाओं के साथ हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मायावती ने विरोध दर्ज कराया कि सरकार ने सावरकर के मुद्दे पर शिवसेना का साथ दिया है।इस पर उनका कहना रहा कि कोई भी विचारधारा चाहे शिवसेना हो या अन्य जब स्वार्थों में अपने विचार को त्याग देते है तो उनको इस द्वंद की परिस्थिति में रहना ही पड़ता है, तो आधा दिन शिवसेना-शिवसेना रहेगी और आधा दिन एक लालची पार्टी बनकर रहेगी।

महंगाई पर रोक नहीं लग पा रही है।महंगाई पर नियंत्रण है।जहां तक प्याज का सवाल है तो आवक देर से आती हैं और अब वह भी सही हो जाएगा। फतेहपुर में बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसे जला दिया गया है। इस पर उनका कहना रहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ऐसे मामलों पर सख्त है और तत्काल कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। प्रियंका गांधी ने कहा है कि लोकतंत्र खतरे में है और सब इसके खिलाफ एकजुट हों। लोकतंत्र में सभी को अपनी बात कहने का अधिकार है और वे लोग हमें शिक्षा न दें जिन्होंने आपातकाल लगाया था।