वाराणसी। नेपाली पीएम ओली के भगवान राम पर दिए गए विवादित बयान के बाद हर जगह विरोध प्रदर्शन हो रहा है। वाराणसी में विश्व हिंदू सेना द्वारा एक नेपाली युवक का सिर मुंडवाने की घटना को लेकर दिल्ली से लेकर लखनऊ तक हंगामा मचा हुआ है। फिलहाल वाराणसी पुलिस ने नेपाली युवक को खोज निकाला है। यह नेपाली युवक भेलूपुर इलाके में रहता है, जिसका नाम धर्मेंद्र सिंह है।

धर्मेंद्र ने पुलिस को बताया कि वह एक साड़ी की दुकान में काम करता था। लॉकडाउन की वजह से काम बंद है। इसी वजह से किसी का फोन आया और सिर्फ 2 घंटे के लिए उसने ₹1000 देने की बात कही। मैंने इस बात को मानते हुए उसके बुलाये स्थान पर पहुंचा और इस दौरान उन लोगों ने मेरे सिर को मुंडवाकर जय श्री राम लिख दिया।

मामले में पुलिस अधीक्षक नगर विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि विश्व हिंदू सेना के लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर बनारस के ही रहने वाले कथित नेपाली युवक का सिर मुड़वा कर एक वीडियो वायरल किया गया था। इस पूरे मामले में भेलूपुर थाने में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया था और इस पूरे घटना को गंभीरता से लेते हुए जाँच की गई। इस घटना में चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो चुकी है, दो कि शेष है टीमें दबिश दे रहे है। उन्होंने बताया कि जिस युवक को नेपाली बता कर उसका वायरल कराया गया था, वो नेपाली युवक यही का रहने वाला है। युवक के पिता यही जलकल विभाग में ही नौकरी करते थे और भाई भी यही नौकरी करता है। युवक का परिवार सरकारी आवास में रहता है। उस युवक से सभी बिन्दुओ पर जानकारी हाशिल की जा रही है।

जाने नेपाली व्यक्ति के मुंडन कराने के मामले की हकीकत, वि.हि.से.ने कराया था मुंडन
To Top