अपना प्रदेश

दोस्ती से रंगदारी तक का सफर, मुकदमा दर्ज

blank

वाराणसी। यूपी में योगी सरकार क्राइम के ग्राफ में कमी लाने के लिए लगातार प्रयास करती रही है, जहां सीएम योगी ने अफसरों के तबादले किये की क्राइम ग्राफ के बढ़ने पर लगाम लग सके लेकिन फिर भी किसी न किसी रूप में क्राइम अपनी मौजूदगी दिखा जाता है फिर चाहे वो, हत्या, फिरौती, दुष्कर्म जैसे कई और मामले हों। इसी कड़ी में रंगदारी का एक मामला रोहनियां के रहने वाले व्यवसायी प्रशांत सिंह का सामने आया है, जिसमें व्यवसायी प्रशांत से 50 लाख की रंगदारी की मांग की गयी है और नहीं देने पर जान से मारने की धमकी भी दी गयी है।
 
बता दें कि रोहनियां के रहने वाले व्यवसायी प्रशांत को रंगदारी के लिए फोन आया,जिसमें उनसे 50 लाख रूपये की बकायदे मांग की गयी,इतना ही नहीं उनको ये कह कर धमकाया गया कि अगर वो रूपये नहीं देते हैं तो उनको जान से मार दिया जायेगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये धमकी सुजीत सिंह बेलवा और जनार्दन सिंह ने दी है। हालांकि सूत्रों की माने एक समय ऐसा था जब प्रशांत और सुजीत की आपस में अच्छी बनती थी लेकिन प्रशांत का एक लंका क्षेत्र के रहने वाले बीजेपी पदाधिकारी के साथ ज्यादा नजदीकी सुजीत को खल गयी और यहीं से दोनों में दूरी आ गयी।

इस बीच प्रशांत के पास सुजीत का फोन रंगदारी के लिए लगातार आता रहा, जब प्रशांत पैसे देने से मना कर दिए तो उनको जान से मारने की धमकी देने लगा। इतना ही नहीं शिवपुर के दनियालपुर में प्रशांत अपने साइट पर डुप्लेक्स बनवा रहे थे तभी वहां सुजीत के भेजे लड़के द्वारा उसको धमकाया गया, वहीं परेशान होकर प्रशांत सुजीत के नंबर को ब्लॉक कर देता है, बावजूद इसके जनार्दन सिंह नामक व्यक्ति का फोन भी प्रशांत के पास जाने लगता है और वो भी उसको धमकाने लगता है। इस बात की तहरीर शिवपुर थाने में प्रशांत द्वारा दी गयी, जिसके बाद पूरे मामले पर पुलिस द्वारा कार्रवाई की जा रही है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top