जुमे के दिन 24 घंटे के लिए 21 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद 

0
29

रिपोर्ट- अंकित सिंह

डेस्क रिपोर्ट। नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध और पिछले शुक्रवार को प्रदेश में हुई हिंसा को देखते हुए राज्य सरकार ने शुक्रवार को जुमे की नमाज के दिन पूरे  प्रदेश में अलर्ट जारी किया है। इसके साथ ही 21 जिलों में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अतरिक्त फोर्स की तैनाती की गई है और इन जिलों में 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा भी बंद करवा दिया गया है। यह वहीं जिले है,जहां पिछले सप्ताह हिंसक प्रदर्शन हुए थे। 

गौरतलब हो कि पिछले सप्ताह प्रदेश के विभिन्न जिलों में जुमे के नमाज के बाद लोग सीएए के विरोध में प्रदर्शन करने लगे और देखते ही देखते प्रदर्शन हिंसक हो गया। इस तरह की घटना दोबारा न हो इसके लिए प्रशासन पहले से ही तैयार दिख रही है,जिसके तहत संवेदनशील जिलों में अर्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। पीएसी के 120 कंपनी और लगभग 35 कंपनी अर्ध सैनिक बल के जवान तैनात किए गए हैं।

डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि सीएए के विरोध में हुई हिंसा में बिना किसी सबूत के किसी की गिरफ्तारी नही करने का आदेश दिया गया है। कोई अगर दोषी पाया जाता है तो पहले यह सुनिश्चित किया जाएगा कि उस पर कितना अपराध बनता है। उसके अनुसार उस पर एफआईआर दर्ज किया जाएगा। इसके साथ ही सभी जिलों में हिंसा के मामले में अपर पुलिस क्राइम की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन भी किया गया है।

प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित सहारनपुर, बुलंदशहर, आगरा, बिजनौर, गाजियाबाद, देवबंद, मथुरा, शामली, संभल, मुजफ्फरनगर, फिरोजाबाद, कानपुर, अलीगढ़, सीतापुर सहित इन शहरों के अलावा अन्य जिलों में 24 घंटे तक के लिए इन्टरनेट सेवा आंशिक या पूरी तरह से बंद रहेगा।