वाराणसी

आइआइटी-बीएचयू काशी को स्मार्ट सिटी बनाने में करेगा मदद, लांच हुआ वर्चुअल सेंटर ‘स्मार्ट सिटी सेल’

वाराणसी। काशी को स्मार्ट सिटी बनाने में आइआइटी-बीएचयू  सहयोग करेगा। भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों का मंत्रालय स्मार्ट सिटी मिशन के तहत देशभर के प्रमुख शहरों को बेहतर बनाने की प्रक्रिया में है। इस मिशन के तहत स्मार्ट सिटी में बदलने के लिएआइआइटी-बीएचयू और वाराणसी स्मार्ट सिटी लिमिटेड के बीच एक समझौता हुआ है।

इसी के तहत मिशन को गति देने के लिए रविवार को संस्थान के निदेशक प्रो. प्रमोद कुमार जैन ने वर्चुअल सेंटर स्मार्ट सिटी सेल लांच किया। वर्चुअल सेंटर के माध्यम से संस्थान के शिक्षकों व पेशेवरों की टीम वीएससीएल के अधिकारियों संग समन्वय बनाकर स्मार्ट सिटी परियोजनाओं की विभिन्न जरूरतों को पूरा करने की दिशा में काम करेगी।

बता दें कि संस्थान के शिक्षाविदों और पेशेवरों का एक दल बीएससीएल के अधिकारियों के साथ समन्वय कर स्मार्ट सिटी परियोजनाओं की विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कार्य करेगा। बीएससीएल के सीईओ गौरव राठी ने इस विचार का स्वागत किया और लक्ष्यों की समय पर सुनिश्चित करने के लिए सहमति व्यक्त की है। संस्थान के यूजी पीजी छात्र, सूचना प्रौद्योगिकी, स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चर, शहरी नियोजन स्मार्ट मोबिलिटी पर्यावरण जैसे कई अन्य क्षेत्रों गंगा के कायाकल्प से संबंधित परियोजनाओं में बीएससीएल में अपनी इंटर्नशिप करेंगे। वर्चुअल सेंटर के माध्यम से आइआइटी-बीएचयू के विशेषज्ञों संग वेबिनार की एक शृंखला का आयोजन होगा, ताकि परियोजनाओं से मिली सीख, अनुभव और विशेषज्ञता अन्य स्मार्ट सिटी परियोजनाओं तक भी पहुंच सके।

Most Popular

To Top