अपना प्रदेश

‘साहब’ वो करता है किसी और से प्यार इसलिए बीच सड़क किया तलाक, तलाक, तलाक

रिपोर्ट- नोमेश

वाराणसी। तीन तलाक को लेकर एक बार मामला फिर गरमा गया है। एक ओर सरकार ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया है, तो वहीं पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में तीन तलाक का मामला सामने आया है। जहां पति ने अपनी पत्नी को बीच सड़क में तीन तलाक दे डाला, जिसको लेकर पीड़ित महिला ने पुलिस से गुहार लगाई है और इंसाफ की मांग की है।

मामला मंडुआडीह थाना अंतर्गत लहरतारा के बौलिया का है, जहां की रहने वाली पीड़िता पत्नी ने बताया कि मेरी शादी 2015 में ताहिर नाम के लड़के से हुई थी, जोकि लंका थाना क्षेत्र के नरिया का रहने वाला है। इस दौरान परिवार वाले शादी से नाखुश थे और वो दहेज की मांग कर रहे थे, जबकि दहेज में सारा समान दिया गया था। महिला ने आरोप लगाते हुए कहा कि दहेज के लालच में मेरे पति मुझे मारते पीटते थे। जब बेटी का जन्म हुआ तो ससुराल वाले और ज्यादा नाराज हो गए।

पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ दिनों बाद पता चला कि ताहिर का एक महिला के साथ अवैध संबध है। पीड़िता ने आरोप लगाते हुए बताया कि हर रोज रात में शराब पीकर आते थे और मुझे मारते पीटते थे। साथ ही धमकी देते थे कि 10 लाख रुपये मुझे चाहिए नहीं तो तुम्हें तलाक दे दूंगा और उस महिला को लाकर घर में रखूंगा। पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि कैंटोमेंट में पिछले दिनों मैं और मेरी मां जा रहे थे। इस दौरान मेरे पति और उसकी महिला मित्र ने मेरी मां और मेरे साथ मारपीट भी किया। साथ ही जान से मारने की धमकी भी दे डाली। इसी दौरान बीच सड़क ही उसके पति ने चिल्लाकर महिला को तीन तलाक दे दिया। पड़िता ने इसकी शिकायत महिला ने एसएसपी से भी की है और गुहार लगाई है कि जल्द से जल्द उसे इंसाफ मिले व दोनों दोषियों को सजा दी जाए।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top