वाराणसी। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एक ओर जहां प्रशासन मुस्तैदी के साथ लगा हुआ है तो वहीं दूसरी ओर उन्हीं के नुमाइंदे प्रशासन के किये गए प्रयासों पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं। ताजा मामला एक हॉटस्पॉट बने इलाके का है। जहां सेनेटाइजेशन के लिए गयी नगर निगम के लोगों ने बड़ी लापरवाही को अंजाम दे दिया है और जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है।

बता दें कि शहर के बीचों बीच बने एक हॉटस्पॉट एरिया में मंगलवार को एक बड़ी लापरवाही देखने को मिली है, जहां कबीरचौरा क्षेत्र के राधा स्वामी मठ के पास बने हॉटस्पॉट में आज सुबह नगर निगम की टीम सेनिटाइज़ेशन के बाद नगर निगम कर्मी ने पहनी हुई पीपीई किट को उसी हॉटस्पॉट एरिया में उतारकर गली के एक कोने में जला दिया। बड़ी बात यह है कि उस समय वहां पुलिसकर्मी भी मौजूद थे पर किसी ने इसको लेकर कोई एक्शन नहीं लिया। वहीं इस लापरवाही की फोटो सोशल मीडिया पर बहुत तेज़ी से वायरल हो रही है और नगर निगम के काम का पोल खोल रही है।

इस बाबत जब नगर निगम के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी रामसकल यादव से बात की तो उन्होंने कहा कि यदि किसी ने लापरवाही बरती है तो उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। क्योंकि इस तरह से पीपीई किट को नष्ट करने प्रावधान नहीं बनाया गया है।

कोरोना की लड़ाई में ऐसी लापरवाही को कैसे किया जा सकता है नजरअंदाज, पढ़े ये रिपोर्ट
To Top