हाईकोर्ट का आदेश, विरोध प्रदर्शन करने वालो को चिन्हित कर करें कार्रवाई

0
24

वाराणसी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कमिश्नर, अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन, पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी परिक्षेत्र व एसएसपी को आदेशित पत्र के माध्यम से कोर्ट के आदेश की अवहेलना के संदर्भ में अवगत कराया है। दरअसल विगत कुछ दिनों पूर्व ही सीएए और एनआरसी को लेकर शहर के कई हिस्सों में लोगों द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया था। इसी मामले में कोर्ट ने आदेश जारी करते हुए पत्र भेजा है कि जब 2018 में हाई कोर्ट द्वारा प्रत्येक जिले में धरना प्रदर्शन के लिए स्थान निर्धारित कर दिया गया, तो फिर कैसे अन्यत्र स्थानों पर धरना प्रदर्शन किया गया।

हाईकोर्ट ने स्पष्ट रूप से आदेशित किया है कि प्रशासन ऐसे सभी लोगों के खिलाफ कोर्ट की अवमानना के तहत सूचना दर्ज कर वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी के माध्यम से चिन्हित कर सख्त कार्रवाई करे, जिससे न्यायालय के आदेश का कड़ाई से अनुपालन हो सके।

इस मामले को लेकर हाईकोर्ट ने जारी पत्र में बताया है कि शहर के विभिन्न स्थानों पर धरना प्रदर्शन होने के कारण सामान्य जन को होने वाली परेशानी, यातायात व्यवस्था व जाम की समस्या व कानून व्यवस्था की स्थिति खराब होती है। इन्हीं सब बातों को स्वतः संज्ञान में लेते हुए हाईकोर्ट ने 2018 में पीआईएल दाखिल किया था और स्प्ष्ट आदेशित किया था कि प्रत्येक जनपद मुख्यालय एवं तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन हेतु उचित स्थान निर्धारित किया जाये, जिससे लोकतांत्रिक तरीके से जहां सुचारू रूप से धरना प्रदर्शन किया जा सके, वहीं दूसरी ओर सामान्य जन को किसी भी तरह की परेशानी न हो सके। बावजूद इसके विगत दिनों वाराणसी जनपद के कई क्षेत्रों में लोगों द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया, जो कोर्ट के आदेश की अवमानना में आता है।

इन्ही बातों को लेकर हाईकोर्ट ने आदेशित किया है कि जो कोई भी निर्धारित स्थान के अलावा शहर के अन्य क्षेत्रों में धरना प्रदर्शन आदि किया है। उन सभी लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।