अपना प्रदेश

सरकार करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रही – सतीश द्विवेदी

जौनपुर। सरकार द्वारा शिक्षा को लेकर तमाम तरह की योजनाओं को चला रही है, साथ ही शिक्षा के स्तर पर अधिक से अधिक सुधार लेकर बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने की कवायद में जुट गयी हैं। यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी जौनपुर पहुंचें थे जहां, उन्होंने पत्रकारों से बातचीत कर बताया कि सरकार शिक्षा को लेकर बहुत गंभीर है। इसलिए सभी प्राइमरी विद्यालयों में बच्चों ड्रेस, जूते और किताबों को मुहैया कराई है, ताकि बच्चे खुश होकर पढ़ने के लिए स्कूलों में आएं। 

 बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि सरकार करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रही है। पहले स्कूलों में गलत रिपोर्ट बनाकर भेज दिया जाता था, मगर अब ऐसा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हम इस तरह की व्यवस्था देंगे कि शिक्षा व्यवस्था और बेहतर हो ।

वहीं प्रेरणा एप के सवाल परजवाब देते हुए कहा कि प्रेरणा एप के जरिए स्कूलों में उपस्थिति दर्ज होगी। इसके लिए अध्यापकों को बच्चों के साथ सेल्फी लेकर अपलोड करना होगा। स्कूलों में निरीक्षण करने वाले अधिकारियों को भी पोर्टल पर फोटो अपलोड करना होगा। प्रेरणा ऐप के जरिए शिक्षकों की छुट्टी ऑनलाइन करने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार इस बार ट्रांसफर की प्रक्रिया में शिक्षकों को उनके गांव के बगल तक सुविधा दी जाएगी ।जो इसी साल अक्टूबर से चालू होगी ।ट्रांसफर में किसी प्रकार की गड़बड़ी ना हो इसके लिए पूरी पारदर्शिता बरती जा रही है ।

यूपी के करीब डेढ़ लाख सरकारी  बच्चे अब सुबह की प्रार्थना के साथ योग भी करेंगे। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह इस बात को सुनिश्चित कराएं कि सभी स्कूलों में सुबह होने वाली प्रार्थना सभा के दौरान 15 मिनट का योग सत्र भी हो। इतना ही नहीं स्कूल खत्म होने से पहले छात्रों को 15 मिनट पीटी क्लास भी कराई जाए।

वहीं  बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने बताया कि मिर्जापुर में  सरकारी विद्यालय की खबर उजागर करनें वालें पत्रकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुए सवाल पर कहां कि हमारे सरकार में किसी भी निर्दोष को जेल नहीं भेजेगी चाहें वो शिक्षक हो या पत्रकार, इस मामले में जांच टीम बैठा दिया गया है ।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top