बेंगलुरु से काशी तक लगायी दौड़, स्वास्थ्य को लेकर दिया संदेश

0
25

रिपोर्ट- प्रभात गौड़

वाराणसी। आपने लोगों को सुबह मॉर्निंग वॉक करते हुए सुना होगा और दौड़ते हुए भी देखा होगा, लेकिन आपने कभी ऐसे इंसान के बारे में सुना है, जो बेंगलुरु से 40 दिनों का सफर करके काशी पहुंचे। जी हां, गिरधर कामथुन नामक एक ऐसा व्यक्ति है, जो 1 हजार 50 किलोमीटर की यात्रा को बेंगलुरु से काशी पहुंचकर पूरा किया। साथ ही बीएचयू स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर का दर्शन-पूजन किया।

गिरधर कामथुन ने बताया कि वो 2 अक्टूबर को बेंगलुरु से निकले थे। 40 दिनों के सफर में मुझसे जो मिला मैंने उनको जानकारी दी और कहा कि हेल्थ इज एवरीथिंग न इसके आगे कुछ है न इसके पीछे कुछ है। उन्होंने कहा कि सुबह जब आप उठते हो तो एक घंटे का समय अपने शरीर के लिए जरूर दें।

गिरधर कामथुन ने बताया कि अगर आप अपने शरीर को एक घंटा देते है। जो जितने भी आपके रोग है वो दूर हो जाएगें। इससे आपका मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य ठीक रहेगा और वो ऊर्जावन तरीके से पूरा काम करेंगे।