Ghazipur: स्वतंत्रता सेनानी डॉक्टर ‘मुख्तार’ का 139वीं जयंती मनाया गया

0
28

रिपोर्ट- राहुल पांडेय

गाजीपुर। शहर के डा. एमए अंसारी इंटर कालेज यूसुफपुर मुहम्‍मदाबाद के प्रांगण में बीते बुधवार को स्वतंत्रता सेनानी मुख्तार अहमद अंसारी का जयंती मनाया गया।  मुख्तार अंसारी के 139वीं जयंती पर बच्चों ने सांस्‍कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्‍य अतिथि पूर्व कैबिनेट मंत्री अंबिका चौधरी ने डा. अंसारी के चित्र का अनावरण किया गया।

पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने डा. अंसारी को नमन करते हुए कहा कि आज देश में नफरत फैलाई जा रही है। धर्म को धर्म से लड़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस विद्यालय की स्‍थापना सिर्फ बच्‍चों को तालिम देने के लिए नहीं की गयी थी। बल्कि बच्‍चों के अंदर हिंदुस्‍तान का मूल संस्‍कार देने के लिए हुई थी। अंबिका चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा नागरिकता संशोधन एक्‍ट को लागू कर देश को तोड़ने की साजिश की जा रही है, जिसे किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

विशिष्‍ठ अतिथि वरिष्‍ठ पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि डा. मुख्‍तार अहमद अंसारी महान स्‍वतंत्रता संग्राम सेनानी व महात्‍मा गांधी के अतिप्रिय थे। उनके नाम पर देश के पूर्व उप‍राष्‍ट्रपति हामिद अंसारी के पिता स्‍व. अजीज अंसारी की सदारद में स्‍थापित इस विद्यालय का गौरवशाली इतिहास है।

अध्‍यक्षता कर रहें विद्यालय के प्रबंधक सांसद अफजाल अंसारी ने डा. मुख्‍तार अहमद अंसारी के व्‍यक्तित्‍व एवं उनके  किये गए कार्यें पर विस्‍तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि अंसारी ने आजादी की लड़ाई में अपना सर्वस्‍य त्‍याग दिया। उन्‍होने कहा कि केंद्र सरकार लोगों के बीच भय का वातावरण बनाकर साम्‍प्रदायिक आधार पर चुनाव जीतना चाहती है। अफजाल ने कहा कि जनता ने पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनावों में उन्‍हे सत्‍ता से बेदखल कर उन्‍हें करारा जबाब दिया है। परंतु फिर भी भाजपा नेताओं का अहंकार कम नहीं हो रहा है। भारत के नक्‍शे में जहां 70 प्रतिशत क्षेत्र में भाजपा व उनके सहयोगी दलों की सरकारे थी जो अब घटकर 35 प्रतिशत रह गयी है।