अपना प्रदेश

ढाब क्षेत्रों में घुसा बाढ़ का पानी, फिर भी लोग पलायन से कर रहें इनकार, जाने क्यों  

 

वाराणसी।  यूपी व उत्तराखंड के बांध खुलने से वाराणसी में बाढ़ जैसे हालात बनते दिखाई दे रहे हैं।  एक तरफ गंगा का जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच चूका है तो वहीं वरुणा ने भी  रौद्र रुप धारण कर लिया है। बीते दिनों गंगा का उफान धीरे धीरे काम होने लगा था, लेकिन बांध के खुलने के बाद से  गंगा का जलस्तर तेज़ी से बढ़ने लगा है। 

बता दें कि बांध खुलने के बाद फिर से एक बार गंगा के जलस्तर में तेज़ी से बढ़ोतरी हो रही है।  शुक्रवार की शाम से गंगा में प्रति घंटे चार सेमी की रफ़्तार से पानी बढ़ रहा है। वर्तमान में जलस्तर 69.52 पर पहुंच गया है, गंगा का जलस्तर खतरे के निशान से अब कुछ दूरी पर ही है। गंगा के साथ-साथ वरुणा का पानी भी अब रिहायशी इलाकों में घुसने लगा है, जिसको लेकर लोग काफी चिंतित है। घरों में पानी घुसने से लोगों की चिंता बढ़ने लगी है, बावजूद इसके लोग अपना घर नहीं छोड़ पा रहें हैं।

बाढ़ पीड़ितों की अगर मानें तो उनके सामने सबसे बड़ी मज़बूरी यह है कि वह अपना घर नहीं छोड़ना चाहते, क्योंकि ऐसे स्थिति में चोरी आदि घटनाएं भी घटित हो जाती हैं। बाढ़ पीड़ितों ने जिला प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि प्रशासन अगर हमारे घरों की सुरक्षा की जिम्मेदारी ले ले और इन चोरी की घटनाओं पर रोक लग जाए, तो हम भी सुरक्षित स्थान की ओर पलायन कर सकते हैं।

गंगा और वरुणा के रौद्र रूप को देखकर कयास लगाया जा रहा है कि वाराणसी जिले में भी बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो सकते हैं। वहीं गंगा के जलस्तर में हो रहे बढ़ाव को देखते हुए लग रहा है कि शनिवार की रात तक वो लाल निशान को पार कर जाएगी, जिसके बाद गंगा के बाढ़ का पानी शहर में घुस जायेगा।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top