अपना प्रदेश

मजदूरों के नाम पर बने फर्म में करोड़ों की हुई टैक्स चोरी

 

चंदौली। एशिया की सबसे बड़ी कोयला मंडी चंधासी में गरीब मजदूरों के नाम पर फर्म बनाकर करोड़ों के टैक्स चोरी का एक मामला सामने आया है।  जिसमें यह  युवक जेल भी जा चुका है। इस मामले में पीड़ित मजदूर ने क्षेत्राधिकारी सदर के पास जाकर मदद की गुहार लगायी, जिसके बाद पुलिस ने तत्परता दिखते हुए जांच शुरु कर दिया। जानिए क्या है पूरा मामला। 

बताते चलें कि विनोद कुमार चौहान पुत्र उमा चौहान ग्राम महाबलपुर,जनपद चंदौली निवासी युवक ने चंधासी स्थित कोयला मंडी के चौहान कटरा में पीडीडीयू नगर के फर्म में बतौर मुंशी सन 2013-14 में 3000 रुपये मासिक वेतन पर कार्य करता था। विशाल जगोता ने विनोद के हस्ताक्षर से एक फर्जी फर्म पार्वती इंटरप्राइजेज के नाम से बनवा दिया। उक्त फर्म के माध्यम से करोड़ों रुपए का व्यवसाय कर लगभग 1,50,00000 रूपए के सेल टैक्स की चोरी कर ली। जिस कारण सेल टैक्स डिपार्टमेंट ने विनोद चौहान के विरुद्ध आरसी जारी कर उसकी वसूली के दौरान उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

वहीं जेल से आने के बाद उसने कई बार विशाल जगोता से मिलकर सेल टैक्स जमा कर उसे समस्या से निजात दिलाने की बात कही लेकिन विशाल जगोता ने उसे जान से मारने की धमकी देना शुरू कर दिया। ऐसे में विनोद को डर था कि वह उसकी हत्या करा देगा। उसने पुलिस अधीक्षक, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, केंद्रीय सतर्कता आयोग व प्रधानमंत्री सहित डीजीपी यूपी तक को सूचना देकर न्याय की गुहार लगाई थी। बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं होने पर विशाल जगोता का हौसला बढ़ गया। उसने उसे पुनः जान मारने की धमकी देनी शुरू कर दी।

पीड़ित विनोद ने अपनी मां के साथ क्षेत्राधिकारी सदर त्रिपुरारी पांडेय के कार्यालय जाकर न्याय की गुहार लगाई, जिस पर उन्होंने जांचोपरांत मुकदमा दर्ज करवाकर कार्रवाई का आदेश दे दिया है। इस बाबत क्षेत्राधिकारी सदर ने बताया कि यह एक गंभीर मामला है। गरीब आदमी के नाम पर फर्म बनाकर टैक्स चोरी का मामला है। जिसमें यह युवक जेल भी जा चुका है। इस तरह के और भी रैकेट चंधासी कोयला मंडी में कार्य कर रहे होंगे। जो सेल टैक्स चोरी करते हैं। जांचोपरांत जो भी सामने आएगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top