आज भी लोगों के दिलों में बसती है ‘अम्मा’ की यादें

0
47

रिपोर्ट — किरन

ब्यूरो डेस्क। तमिलनाडु की पूर्व सीएम और फिल्मी जगत की मशहूर अदाकारा जय​ललिता ने फिल्मों के द्वारा जितना  लोगों के दिलों में अपनी छाप छोड़ी उससे कही ज्यादा राजनीति में आने के बाद उनके चाहने वाले हुए। राजनीति में आने के बाद जय​ललिता ने अपने काम के द्वारा जो लोगों के दिलों में जगह बनायी। आज भी काफी संख्या में उनके प्रशंसक मौजूद है। जयललिता को तमिलनाडु के लोग इतना चाहते थे कि वहां पर सभी उन्हें अम्मा नाम से पुकारते थे।

जयललिता का जन्म 24 फरवरी 1948 में मैसूर के पुराने राज्य के मांड्या जिले के पांडवपुरा तालुक के मेलुरकोट गांव में एक तमिल परिवार में हुआ था। 5 दिसम्बर 2016 में अम्मा ने अपनी अंतिम सांस ली। जब इनकी मृ​त्यु हुई तब पूरा राज्य गमगीन हो गया था। कहते है कि राजनीति में हर किसी का एक प्रतिद्वंदी होता है। राजनिति जगत में इनकी प्रतिद्वंदी डीएमके की नेता एम करुणानिधि थी। इन दोनों ने अपने सफर की शुरूआत सिनेमा से की। जयललिता ने तमिलनाडु की राजनिति में अपनी पैठ इस कदर बनायी थी कि दो बार अपनी पार्टी को विधानसभा के चुनाव में जीत दिलाकर इन्होंने इतिहास रचा था।

जय​ललिता को क्लासिकल डांस में महारत हासिल थी। भारत के कई जगहों पर ​इन्होंने क्लासिकल डांस पर नृत्य भी किया था। इन्होंने एक साथ तमिल,तेलगू,हिन्दी,कन्नड़ अंग्रेजी भाषाओं में निपुणता हासिल की थी। पढ़ाई के दौरान इन्होंने अंग्रेजी फिल्म एपिसल में काम कर चुकी थी। मुख्य अभिनेत्री के रूप में कन्नड़ फिल्मों से इन्होंने अभिनय की शुरूआत की फिल्मों में काम करने के बाद 1982 से इन्होंने राजनिति की दुनिया में कदम रखा। 1984 से 1989 में राज्यसभा में ​तमिलनाडू राज्य का प्रतिनिधित्व किया। जयललिता 1991 से 1996, 2001 में, 2002-2006 तक और 2011 से 2014 से तक तमिलनाडु की मुख्यमंत्री रहीं।