अपना प्रदेश

DM के निर्देश के बाद पोखरी और पंचायत भवन से हटाया गया अतिक्रमण

मऊ। जिले के विभिन्न विकास खण्डों में सार्वजनिक या सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण के लगातार कई मामले सामने आए हैं। प्रशासन द्वारा इन मामलों के कार्रवाई भी की जा रही  है। इसी क्रम में  डीएम के निर्देश पर कोपागंज विकास खण्ड के चोरपाकला गांव में सार्वजनिक पोखरी व पंचायत भवन पर हुए अतिक्रमण को प्रशासन ने कार्रवाई कर हटवा दिया।

बताते चलें कि ग्रामीणों का आरोप था कि गांव के कुछ लोगों द्वारा सार्वजनिक पोखरी पर मिट्टी पाट कर अतिक्रमण कर कब्ज़ा कर लिया था। जिससे गांव के अधिकांश घरों का गंदा पानी पोखरी में नहीं पहुंच पाता है और पंचायत भवन के अगल बगल इकट्ठा हो जाता है, इससे न केवल पंचायत भवन जर्जर हो गया है बल्कि गंदा पानी हमेशा जमा रहने से मुहल्ले में संक्रामक रोग फैलने की आशंका भी बन गई है।इस बाबत चोरपाकला गांव के करीब आधा दर्जन लोगों ने संपूर्ण समाधान दिवस के साथ ही मुख्यमंत्री के पोर्टल पर भी अतिक्रमण के सम्बन्ध में शिकायत दर्ज करायी थी। जिसे संज्ञान में लेकर प्रशासन ने जांच कराई। मामले को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने तहसीलदार को अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया। कार्रवाई करते हुए जिलाधिकारी के निर्देश पर पहुंचे तहसीलदार, बीडीओ व पुलिस बल ने जेसीबी मशीन लगाकर कब्जे से सार्वजनिक भूमि को मुक्त कराया।

अतिक्रमण हटाने के लिए तहसीलदार ओपी पांडेय, खंड विकास अधिकारी रमेश कुमार यादव, ग्राम पंचायत अधिकारी सपना सिंह, पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे प्रशासनिक टीम ने पोखरी की पैमाईश व नापी कराकर जेसीबी मशीन से अतिक्रमण को हटा दिया। इस दौरान अतिक्रमणकारियों ने विरोध भी किया किंतु प्रशासन का सख्त रवैया देख ठण्डे पड़ गए। अतिक्रमणकारियों ने पंचायत भवन को भी कबाड़खाना बना लिया था।  उसमें टेंट का सामान रखने के साथ ही पशुओं का स्थल बना दिया था।  उसे भी तत्काल खाली कराया गया और हिदायत दी कि अगर दोबारा यहां सामान रखा गया तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

तहसीलदार ओपी पाण्डेय ने बताया कि पोखरी पर अवैध अतिक्रमण का मामला था। ममाले में प्रार्थना पत्र दिया गया था, जिसका टीम गठित कर सीमांकन कराया गया। तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारी, पुलिस चौकी प्रभारी, लेखपाल, राजस्व निरीक्षक, ग्राम विकास अधिकारी, एडीओ की उपस्थिति में प्रभावित ग्रामीणों के सामने पोखरी का सीमांकन कराकर अतिक्रमण हटा दिया गया है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top