अपना प्रदेश

भ्रष्टाचार के मामले में निलम्बित हुए DSO और निरीक्षक

मऊ। जिले में शासन स्तर पर कई विभागीय घोटालों को लेकर बड़ी कार्रवाई की गयी, जिसमें भ्रष्टाचार के आरोप में जिला पूर्ति अधिकारी नरेन्द्र तिवारी व पूर्ति निरीक्षक शैलेन्द्र सागर को निलंबित कर दिया गया है। जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने शासन स्तर पर आदेश मिलते ही निलंबित करने की कार्रवाई की है। शासन स्तर पर जांच के बाद बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया गया। 

बताते चलें कि जिला पूर्ति विभाग में कई महीनों से कई विभागीय घोटालों की जांच शासन स्तर से की जा रही थी। शासन स्तर पर शिकायत किया गया था कि विभाग में जिलापूर्ति अधिकारी और पूर्ति निरीक्षक के द्वारा भ्रष्टाचार को बढ़ावा देकर गरीबों के राशन और राशन कार्ड में भारी अनियमितता बरती जा रही है। इस शिकायत पर शासन स्तरीय टीम लगातार कई महीने से जांच पड़ताल कर रही थी। जांच में आरोप सही साबित होने पर शासन स्तर पर जिलाधिकारी को आदेश दिया गया कि दोनों ही अधिकारियों को निलंबित कर दिया जाये।

जिलाधिकारी ने बताया कि शासन स्तर पर जांच के बाद जिलापूर्ति अधिकारी और पूर्ति निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है। इनके ऊपर शासन स्तर पर शिकायत किया गया था कि राशन कार्ड और राशन वितरण में अनियमितता की जा रही है। जिसके बाद यह कार्रवाई की गयी है। साथ ही डीएम ने कहा कि निलंबित अधिकारियों पर आगे की कार्रवाई कर निर्देश के बाद की जाएगी।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top