अपना प्रदेश

डीएम वाराणसी ने पेश किया नैतिकता की मिसाल, गंगा घाट पर उनके 2000 रुपये ने किया कमाल

वाराणसी। अपने सरल स्वभाव के कारण काशी के गरीबों के दिल में बसने वाले वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा आज नौका विहार का आनंद लेने काशी के घाट पहुंचे। लॉकडाउन के बाद कुछ शर्तों के साथ गंगा में नौका का संचालन करना सुचारू रूप से शुरू कर दिया गया है। जिसका जायजा लेने के लिए डीएम कौशल राज शर्मा ने स्वयं घाट पर पहुंचकर नौका विहार का आनंद लिया।

डीएम कौशल राज शर्मा ने गंगा में नाव के संचालन को सुचारू रूप से व्यवस्थित करने के लिए नई गाइडलाइन जारी किया है। इसके बाद वह स्वयं गंगा में नाव पर सवार होकर भ्रमण के लिए निकल पड़े। नौका बिहार के बाद डीएम ने नाविक सेवा समिति के अध्यक्ष शंभू साहनी से उनका मेहनताना पूछा तो जवाब आया 100 रुपये। इसके बाद डीएम कौशल राज शर्मा ने उन्हें 2000 का नोट पकड़ाया और कहा कि घर जाना तो बच्चों के लिए मिठाइयां लेते जाना।

डीएम के इस व्यवहार के बाद घाटों पर काफी देर तक चर्चा होती रही। लोगों ने बताया कि इस तरह का डीएम मिलना सौभाग्य की बात है। इस तरह का डीएम मिलना काशीवासियों के लिए सौभाग्य की बात है। उन्होंने कोरोना के संकट काल में युद्ध स्तर पर गरीबों को मदद पहुँचाई है। वो जानते हैं कि रोज कमाकर खाने वाले नाविक पिछले कई दिनों से रोजी रोटी के संकट से जूझ रहे हैं।

Most Popular

To Top