जिला प्रशासन वाराणसी ने जनहित में की अपील: भय रहित सुरक्षित वातावरण बनाये रखें

0
24

वाराणसी। बीते गुरुवार को शहर में हुए नागरिकता संशोधन कानून को लेकर प्रदर्शन को देखते हुए जिला प्रशासन ने आज जुम्मा की नमाज को देखते हुए जनहित में अपील की है, जिसमें कहा गया है कि सभी मस्जिदों के सम्मानित इमाम साहब अपनी अपनी मस्जिदों में किसी धार्मिक भावना को न भड़कने दें। नमाज के दौरान कोई भी वक्ता ऐसी बात न बोले या ऐसा बयान न दे जिससे किसी की भावना भड़के। नमाज के बाद सभी नमाज़ियों को शांति पूर्वक अपने अपने घरों को लौटने की अपील करें। किसी को भी सड़कों, चौराहों, गलियों  में ना खड़े रहने के लिए भी बताया गया है। 

किसी को भी अपना विचार, सुझाव किसी भी स्तर तक पहुंचाना हो तो ज्ञापन, पत्र या मेमोरैंडम लिख कर तैयार रखें। लोकल मजिस्ट्रेट उसे वहीं से प्राप्त कर लेंगे। सभी मजिस्ट्रेट को ये निर्देश दिये गये हैं। इसके लिये किसी जुलूस या सड़क पर चल कर आने की आवश्यकता नही है। एक सही तरीके से अपनी बात सही जगह पहुंचाएं। यदि किसी को लगे कि उनकी मस्जिद का प्रयोग किसी क़ानून तोड़ने वाले व्यक्ति के द्वारा किया जा सकता है जिससे मस्जिद का नाम खराब होता हो तो उस व्यक्ति को पहले ही सचेत कर दें। प्रशाशन को भी इसकी खबर दें। यदि किसी धार्मिक स्थल पर आने वाले लोग कानून तोड़ते हैं तो उनका भी नाम खराब होगा और उन तक भी कार्यवाही की आंच पहुंचेगी।

सभी समाज के जिम्मेदार लोग आम जन को सड़कों पर इधर उधर खड़े रहने से रोकें।कोई भी अफवाह फैलाने से बचें। सोशल मीडिया मॉनिटरिंग में किसी का नाम सामने आता है तो बाद में कार्यवाही से बच नही पाएंगे। शहर में शांति और सौहार्द बना कर रखें और अपना सहयोग दें। अपने शहर के अमन चैन की जिम्मेदारी खुद लें और एक भय रहित सुरक्षित वातावरण बनाये रखें।