MIRZAPUR: बेटी का हत्यारा पिता और प्रेमी निकला 

0
29

 

रिपोर्ट -अंकित सिंह

मिर्जापुर । बीते सप्ताह जिले के देहात कोतवाली थाना अतंर्गत चिन्दलिख दूबे गांव के एक खेत में मिली अज्ञात लड़की के शव की गुथी को पुलिस द्वारा हल कर लिया गया है। पुलिस के द्वारा काफी जाँच पड़ताल करने के बाद आरोपियों के बारें में पता चल गया,जिसमें दोषी लड़की के पिता और उसका प्रेमी निकला। 

बात दें कि 18 दिसंबर की सुबह पुलिस को एक लड़की अज्ञात शव की सूचना प्राप्त हुई। मौके पर पुलिस पहुंच कर  शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा कर पहचान कराने का प्रयास किया।पहचान न होने पर 22 दिसंबर को पोस्टमार्टम कराकर नियमानुसार अंतिम संस्कार कराया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0-373/19 धारा 302,201 भा.द.वि. बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।

प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली देहात अभय कुमार सिंह द्वारा जांच पड़ताल शुरु किया गया। इसके बाद मर्डर की गुथी परत दर परत खुलता गया। आखिरकार पुलिस को यह जानकारी मिली की शव थाना कोतवाली देहात अन्तर्गत ग्राम जसोवर के यमराज यादव की बेटी नेहा यादव का है। उसके बाद पुलिस उसकी तलाश में लग गई और मंगलवार को पुलिस ने उसे पकड़ लिया।

पुलिस के द्वारा जब यमराज यादव से पूछताछ किया तो उसने कहा कि मेरी लड़की नेहा संबंध चौसा गाँव के राकेश सोनकर से हो गया था। उसे कई बार घर से भगा चूका था। नेहा को कई बार समझाने पर भी वह मेरी बात नहीं मान रही थी। वह गर्भवती हो गयी है तो मैंने राकेश सोनकर को बलात्कार व पॉक्सो के मुकदमें में जेल भेजवाने का धमकी दिया उसके बाद वः नेहा को घर लेकर आया। बदनामी से बचने के लिए  राकेश से शादी करवाने का झांसा देकर उसे राकेश के साथ मोटरसाइकिल पर बैठाकर ग्राम जसोवर से दूर ग्राम चिन्दलिख दूबे नहर पार कर सुनसान खेत में ले गया।  मैने राकेश को धमकी दिया की इसकी हत्या में मेरा साथ दो नहीं तो जेल भेजवा दूंगा। हम दोनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दिया और उसके चेहरे को पत्थर से कूच दिया,जिससे की उसके चेहरे की पहचान न हो सके।