अपना प्रदेश

डीएम कार्यालय के समक्ष एक दंपती ने किया आत्मदाह का प्रयास

रिपोर्ट- नीरज सिंह

जौनपुर। जिले में पिछले दिनों जमीन को लेकर चाचा-भतीजा में विवाद हो गया था, जिसको लेकर दंपति ने आरोप लगाया है कि मामले की सुनवाई नहीं की जा रही है और हम लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा हैं। इससे परेशान होकर दंपति ने अपने मासूम बच्चे के साथ डीएम कार्यालाय के सामने मिट्टी का तेल अपने ऊपर छिड़क कर आत्महत्या का प्रयास किया। वहीं मौके पर मौजूद सुरक्षा बलों ने उन्हें पकड़ लिया।

मामला सिकरारा थाना क्षेत्र के डमरुआ (मचकायी) गांव  के भानु प्रताप सिंह, पत्नी सोनी और अपने दूधमुहे बच्चे आरव के साथ करीब साढ़े 10 बजे डीएम कार्यालय के सामने पहुंच गए। जहां मिटिंग हाल में डीएम जन सुनवाई कर रहे थे। इसी बीच पति, पत्नी अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर माचिस जलाने का प्रयास कर रहे थे। तभी वहां तैनात सुरक्षा कर्मचारियों ने उन्हें पकड़ लिया।

पीड़िता सोनी सिंह ने आरोप लगाया कि जमीन बंटवारे के बाद भी पट्टीदारों द्वारा उनका शोषण किया जा रहा है। साथ ही गांव में मकान के निर्माण में रूकावट उत्पन्न की जा रही है और रास्ते को भी रोका जा रहा है। साथ ही थाने पर भी सुनवाई नहीं की जा रही है। सोनी ने बताया कि तीन महीने पहले मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत भी दर्ज करायी थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई, जिससे परेशान होकर आज हमने आत्मदाह का प्रयास किया है। उक्त घटनाक्रम जानने के बाद जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को कार्रवाई के निर्देश दिए।

पीड़ित भानु सिंह ने बताया कि हमारे दो पट्टीदार हैं। जंगबहादुर सिंह औऱ समय बहादुर सिंह जो हमे घर से बेदखल कर रहे है। जब हम घर पर जाते है तो उनके पांचो लड़के हमे मारने लगते है। जब हम इसकी शिकायत लेकर थाने पर जाते है तो वहां पर कोई भी सुनवाई नहीं की जाती और मुझे भगा दिया जाता है।

एसपी आररे सजय रॉय ने बताया कि ये थाना सिकरारा का मामला है, जिसमें सगे चाचा-भतीजा में मकान व जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। उन्होंने बताया कि ये राजस्व का मामला है और इसमें दीवनी में मुकदमा चल रहा है। साथ ही 151 के तहत चालान किया गया है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top