अपना प्रदेश

कोरोना अपडेट: इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर 100 बीमारी की एक दवा के तर्ज़ पर कर रहा काम

वाराणसी। जिला प्रशासन ने इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर की स्थापन की है जो वाराणसी के लिए किसी नजीर से कम नहीं है। कोई भी व्यक्ति टोल फ्री नंबर 1077 पर किसी भी प्रकार की सूचना देने पर इस वार रूम में मौजूद विभिन्न ऑपरेटर द्वारा उसे सीधे संबंधित विभाग को ट्रांसफर किया जाता है और उसकी मदद की जाती है। आज हम आपको इस सेंटर के बारे में बताएंगे और उसमें क्या खूबी और ये कैसे काम करता है उसकी जानकारी आप तक पहुंचाएंगे। 

बता दें कि सिगरा स्थित इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर कोरोना वायरस के संक्रमण एवं इससे बचाव के लिए आवश्यक सुविधाओं की मॉनिटरिंग के लिए स्मार्ट सिटी के इस इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर को कोविड-19 वार्ड रूम के रूप में तब्दील किया गया हैं। जो वास्तव में वर्तमान परिवेश में मील का पत्थर साबित हो रहा है।

टोल फ्री नंबर 1077 पर किसी भी प्रकार की सूचना देने पर इस वार रूम में मौजूद विभिन्न ऑपरेटर द्वारा उसे सीधे संबंधित विभाग को ट्रांसफर किया जाता है। जिससे किसी भी प्रकार के प्राप्त सूचना एवं शिकायतों का निस्तारण तत्काल एवं प्राथमिकता पर सुनिश्चित होता हैं।

इसके अंतर्गत प्रमुख रूप से स्वास्थ्य, पुलिस, खाद्य एवं रसद, नगर निगम के साथ-साथ मिसलेनियस के रूप में कुल 5 विभागों से संबंधित योजनाओं एवं शिकायतों का वर्गीकरण कर कार्यवाही सुनिश्चित किया जाता है। इसके साथ ही साथ टेलीमेडिसिन की सुविधा भी वार रूम रखा गया है। उन्होंने बताया कि “आरोग्य सेतु एप” के डाउनलोड की मानिटरिंग भी यहां से की जा रही है।

इतना ही नहीं शहर में लगे लगभग 300 कैमरों के माध्यम से वार रूम में लगे स्क्रीन पर शहर में कराए गए होम कोरोन्टाइन, बनाए गए कोरोन्टाइन सेंटर के साथ-साथ कम्युनिटी किचन की गतिविधियों और पूरी निगरानी एवं मानिटरिंग इस वार रूम के माध्यम से किया जाता है। इस दौरान कमिश्नर व जिलाधिकारी ने बैठक कर मिल रही शिकायतों की समीक्षा की तथा निराश्रित दिहाड़ी मजदूरों, आटो चालकों सहित अन्य लोगों तक आवश्यक खाद्य सामग्री आदि पहुंचाये जाने की जानकारी ली।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top