अपना देश

कोरोना अपडेट: आपदा में केंद्र सरकार ने किये 10 बड़े ऐलान

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के गंभीर हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने देश की जनता के लिए इस संकट की घड़ी में 10 बड़े ऐलान किए हैं, जिसके कारण देश की जनता को इस संक्रमण काल में काफी हद तक राहत मिल सकेगी। आइए जानते हैं कि वह 10 बड़े ऐलान क्या है-

अगले 3 महीने के लिए एटीएम से कैश निकालना फ्री कर दिया गया है यानी कि बैंक के एटीएम से अगर आप कैश निकालते हैं तो उस पर कोई चार्ज नहीं लगेगा।

सरकार ने आधार-पैन लिंक करने की आखिरी तारीख को बढ़ाकर 30 जून 2020 तक कर दिया है। पहले इसकी डेडलाइन 31 मार्च थी।

विवाद से विश्वास स्कीम की भी तारीख को बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है बता दें कि विवाद से विश्वास का उद्देश्य उन लोगों को राहत देने के लिए है जिनकी टैक्स देनदारी को लेकर कई तरह का विवाद है।

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख को भी बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है इसके लिए ब्याज दर को 12% से घटाकर 9% कर दिया गया है।

15 दिन के बाद उनके लिए ब्याज पेनल्टी या लेट फीस 9 फ़ीसदी की दर पर होगी इसके अलावा कंपोजीशन स्कीम का लाभ लेने के लिए भी डेडलाइन को 30 जून तक कर दिया गया है।

कॉर्पोरेट जगत को राहत देते हुए कहा गया है कि बोर्ड बैठक 60 दिनों के लिए टाला जा सकता है और अगले दो तिमाही के लिए इसको किया जाएगा।

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा है कि लॉकडाउन के मद्देनजर विभिन्न क्षेत्रों की मदद के लिए सरकार जल्दी आर्थिक पैकेज की घोषणा करेगी।

30 जून तक देर से भरे गए टीडीएस के लिए ब्याज दर को घटाकर 9 फ़ीसदी कर दिया गया है। पहले यह दर 18 फ़ीसदी था।

जीएसटी रिटर्न भरने की समय सीमा को बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है।  5 करोड़ रुपए से कम सालाना टर्नओवर गाड़ी कंपनियों के लिए लेट जीएसटी भरने का कोई ब्याज या फीस नहीं लगेगा।

एक्सपोर्ट इंपोर्ट को राहत देने के लिए 30 जून तक कस्टम क्लीयरेंस 24 घंटे सातों दिन लागू कर दिया गया है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top