विश्वस्तरीय सिटी फुटबॉल ग्रुप ने मुंबई सिटी एफसी में खरीदी बड़ी हिस्सेदारी

0
13

मुम्बई। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त सिटी फुटबॉल ग्रुप (सीएफजी) अब इंडियन सुपर लीग की टीम मुंबई सिटी एफसी में अपनी अधिकतम हिस्सेदारी खरीदने के लिए तैयार हो गई है। इस डील के बाद मुंबई सिटी एफसी, सिटी फुटबॉल ग्रुप नेटवर्क का आठवां क्लब होगा। सीएफजी क्लब के पास 65 प्रतिशत शेयर होंगे, तो वहीं मौजूदा शेयरधारकों, अभिनेता और फिल्म निर्माता रणबीर कपूर और बिमल पारेख के पास संयुक्त रूप से 35 प्रतिशत की हिस्सेदारी होगी। यह निवेश कुछ फुटबॉल निकायों की स्वीकृति के बाद पूरा हो जाएगा।

अधिग्रहण की घोषणा आज सीएफजी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी फेरान सोरियानो और फुटबॉल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट लिमिटेड एवं रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने की। घोषणा के समय क्लब के फैंस मौजूद थे। इस सौदे से मुंबई सिटी एफसी को ग्रुप के कमर्शियल और फुटबॉल की जानकारियों का फायदा मिलेगा। साथ ही क्लब की पहुंच सीएफजी ग्लोबल कमर्शियल प्लेटफॉर्म तक होगी।

दुनिया की अग्रणी फुटबॉल क्लबों की संचालक बनी सिटी फुटबॉल
सिटी फुटबॉल ग्रुप दुनिया की अग्रणी फुटबॉल क्लबों की संचालक है। इसे इंग्लिश प्रीमियर लीग चैंपियंस के स्वामित्व के लिए जाना जाता है, मैनचेस्टर सिटी एफसी में, यूएस की न्यूयॉर्क सिटी, ऑस्ट्रेलिया की मेलबर्न सिटी एफसी, जापान की योकोहामा एफ मैरिनो, उरुग्वे की क्लब एटलेटिको टॉर्क, स्पेन की गिरोना एफसी और चीन की सिचुआन जिउनिउ एफसी शामिल हैं।

2000 से अधिक कर्मचारियों को देता है रोजगार
सीएफजी के अब दुनिया भर में 13 ऑफिस और 8 फुटबॉल क्लब तथा फुटबॉल से संबंधित व्यवसाय हैं। मार्च 2013 में अपनी स्थापना के बाद से समूह का काफी विस्तार हुआ है और अब 2000 से अधिक कर्मचारियों को रोजगार देता है और इसमें 1,500 से अधिक फुटबॉल खिलाड़ी हैं जो हर साल 2,500 से अधिक मैच खेलते हैं। ‘सिटीजन गिविंग’ अभियान के माध्यम से, सीएफजी ने अपने 2019 संस्करण में मुंबई सहित छह महाद्वीपों में फैले सामुदायिक कार्यक्रमों को भी समर्थन दिया है।

भारतीय फुटबॉल में सिटी फुटबॉल का बढ़ा वर्चस्व
यह घोषणा सीएफजी के लिए काफी व्यस्त समय में आई है। मुंबई सिटी एफसी का अधिग्रहण करने के ठीक पहले, ग्रुप ने सिल्वर लेक के साथ एक नए इक्विटी निवेश का समझौता किया, इसमें समूह को मूल्यांकन $ 4.8 बिलियन किया गया। पिछले हफ्ते, मैनचेस्टर सिटी एफसी ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में लगातार पांचवे वर्ष रिकॉर्ड राजस्व और मुनाफा दर्ज किया। इंडियन सुपर लीग और भारतीय फुटबॉल में सिटी फुटबॉल ग्रुप का स्वागत करते हुए नीता अंबानी ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक अवसर है, भारतीय फुटबॉल ने जो ऊचाईयों हासिल की है यह उसका जश्न है, भारतीय फुटबॉल को लेकर यह हमारी प्रतिबद्धता और विजन को प्रमाणित करता है।

खेल को विकसित करने का है प्रयास
नीता अंबानी ने कहा कि यह भारतीय फुटबॉल की बढ़ती अपील और भारत के फुटबॉल प्रशंसकों के अविस्मरणीय समर्थन का सबूत है।, यह हमारी फुटबॉल, हमारी संस्कृति और खेल को विकसित करने के हमारे प्रयासों के लिए गर्व का क्षण है। हमारी युवा शक्ति और क्षमता भारत को आज दुनिया का सबसे आकर्षक वैश्विक अवसर प्रदान करती है, वो भी हर क्षेत्र में और विशेष रूप से खेल में। नीता अंबानी ने कहा कि सभी भारतीय फुटबॉल स्टेकहोल्डर्स की ओर से, मैं सिटी फुटबॉल ग्रुप का स्वागत करती हूं और भारतीय फुटबॉल में उनकी रुचि और विश्वास के लिए उन्हें धन्यवाद देती हूं। मुझे यकीन है कि मुंबई सिटी एफसी और भारतीय फुटबॉल इस ऐतिहासिक साझेदारी से काफी लाभान्वित होंगे।

भारतीय फुटबॉल की बदलेगी तस्वीर
अधिग्रहण के अवसर पर टिप्पणी करते हुए सिटी फुटबॉल ग्रुप के चेयरमैन खलदून अल मुंबारक ने कहा कि हम मानते हैं कि यह निवेश संपूर्ण रूप से मुंबई सिटी एफसी, सिटी फुटबॉल ग्रुप और भारतीय फुटबॉल को बदल कर रख देगा। सिटी फुटबॉल ग्रुप भारत में फुटबॉल के भविष्य के लिए और मुंबई सिटी एफसी के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि हम मुंबई सिटी एफसी के प्रशंसक और स्थानीय समुदायों में सक्रिय भूमिका निभाने के लिए बहुत उत्सुक हैं और अपने सह-मालिकों के साथ काम करके क्लब को जल्द से जल्द विकसित करने का प्रयास करेंगे।सीएफजी ने सिटी फुटबॉल ग्रुप इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डेमियन विलोबी को नियुक्त किया। डेमियन आने वाले हफ्तों में सिंगापुर से मुंबई स्थानांतरित होंगे।