JAUNPUR: प्रतिबंध के बाद भी बिक रहा धड़ल्ले से चायनीज मांझा

0
16

जौनपुर। हर साल ठंडी के मौसम के साथ ही पतंगबाजी की शुरुआत हो जाती है। इसी के साथ ही चाइनीज मांझे की बिक्री भी धड़ल्ले के साथ शुरु हो जाती है। गौरतलब है कि चायनीज मांझे की बिक्री पूरी तरह से प्रतिबंध है। इसके बावजूद अब भी पतंग की दुकानों पर चायनीज मांझा धड़ल्ले से बिक रहा है। एक के बाद एक शहर में चाइनीज मांझे से कई हादसे हो रहे हैं, लेकिन प्रशासन एक या दो जगहों पर छापेमारी करने के बाद मौन होकर बैठ जाती है।

इसी कड़ी में भारतीय यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को डीएम के कार्यालय जाकर ज्ञापन दिया कि जनपद में चाइनीज मांजे की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। पहले भी कई लोगों की मांजे से जान जा चुकी है। इस पर प्रशासन को सख्त कार्रवाई की जरुरत है। बता दें कि खेतासराय थाना क्षेत्र के मनेजा के वेजफ़ा नामक युवक जौनपुर शहर में मीटिंग के लिए शहर आया हुआ था। वापस घर जाते समय वह जैसे ही खानपुर के पास पहुंचा, तभी चाइनीज मांझे से उसकी गर्दन पूरी तरह से कट गई, जिससे उसकी जान जाते-जाते बची।

वहीं मांजे से घायल वेजफ़ा ने बताया कि वह पार्टी मीटिंग से घर जा रहा था। जैसे ही खानपुर पहुंचा ही था कि तभी मांजे की वजह से उनकी गर्दन पूरी कट गई। स्थानीय लोगों ने उनको इलाज के लिए डॉक्टर के पास ले गए जहां प्राथमिकी उपचार के द्वारा उसका इलाज हुआ।