धर्म / ज्योतिष

सम्पन्न हुआ छठ महापर्व, व्रतियों ने उदियमान भगवान भास्कर को दिया अर्घ

वाराणसी। शनिवार की सुबह उदीयमान सूर्य को अर्घ देने के साथ ही सूर्योपासना का महापर्व छठ सम्पन्न हो गया। पूरे भारत में लाखों व्रतियों ने उगते हुए सूर्य को अर्घ दिया और परिवार की सुख शांति की कामना की। 36 घंटे बाद व्रतियों ने अपना व्रत प्रसाद ग्रहण करके तोड़ा।

धर्म की नगरी वाराणसी में सुबह से ही घाटों पर लोग सूर्य के उगने का इंतजार करते रहे। कोरोना को देखते हुए कुछ लोगों ने घर में ही सूर्य की उपासना का यह पर्व मनाया है। घाटों पर उमड़ा आस्था के जनसैलाब को देखकर यह अंदाजा लगाया जा सकता था कि कोरोना के ऊपर आस्था भारी पड़ चुकी है।

काशी के सभी घाटों, तालाबों, कुंडों और घर की छतों पर लोगों ने लोक आस्था का यह महापर्व छठ मनाया है। नदी किनारे लाखों लोगों ने ठंडे पानी में आस्था की डुबकी लगाई। किसी भी व्रती के चेहरे को देखने से अंदाजा लगा पाना मुश्किल हो रहा था कि 36 घंटे से उन्होंने कुछ नही खाया। सभी श्रद्धालुओं ने उगते हुए सूर्य को अर्घ दिया और छठ माता को प्रणाम कर व्रत तोड़ा।

Most Popular

To Top