धर्म / ज्योतिष

धमेख स्तूप पर पड़े काले धब्बे, साफ सफाई का शुरु हुआ काम

वाराणसी। बौद्ध धर्म की आत्मा के रूप में पहचा रखने वाले सारनाथ स्थित धमेख स्तूप पर काले धब्बे पढ़ रहे हैं, जिसको बचाने के लिए पुरातत्व विभाग ने धब्बों को साफ करने का काम शुरू कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस काम को पूरा होने में लगभग 15 दिन का समय लगेगा। सारनाथ पहुंची जांच टीम ने इसका जायजा लिया है।

सारनाथ के पुरातात्विक धरोहर बौद्ध धर्म की आस्था का केंद्र धमेख स्तूप को बौद्ध धर्म की आत्मा माना जाता है। दुनिया भर के अनुआई इसकी पूजा करते हैं। लेकिन इन दिनों धमख स्तूप पर काले धब्बे पड़ गए हैं। जिसको साफ करने का काम किया जा रहा है। पुरातत्व विभाग के अधिकारी इसके मद्देनजर निरीक्षण किए हैं। बताया जा रहा है कि स्तूप के पत्थरों पर बनी कलाकृतियों पर काले धब्बे दिखने लगे हैं। इस बात की जानकारी होने के बाद पुरातत्व सर्वेक्षण विज्ञान विभाग लखनऊ की टीम ने धमेख स्तूप पर क्षरण हो रही कलाकृतियों के नमूनों की जांच के लिए देहरादून के विज्ञान शाखा को भेजा है। वहीं स्तूप पर धब्बों को हटाने के लिए पटना की रसायन शाखा की देखरेख में केमिकल को पानी में मिलाकर साफ करने का काम शुरू कर दिया गया है।

Most Popular

To Top