सूर्य के राशि परिवर्तन से होगा खरमास शुरु, इस राशियों पर होगा ये प्रभाव

0
40

वाराणसी। भारतीय ज्योतिष के अनुसार सूर्य ग्रह का नवग्रह में प्रमुख स्थान है। ज्योतिष की गणना के अनुसार मेष राशि से मीन राशि तक सूर्य ग्रह प्रत्येक मास अपनी राशि बदलते हैं,जिसका व्यापक प्रभाव पूरे विश्व में देखने को मिलता है। ज्योतिषविद विमल जैन ने बताया कि सूर्यग्रह वृश्चिक राशि से धनु राशि में प्रवेश करेंगे।सूर्य के धनु राशि में प्रवेश करने से खरमास प्रारंभ हो जाएगा। 

बता दें कि इस अवधि में ज्योतिष शास्त्र के अनुसार खरमास में शुभ काम संपन्न नहीं होंगे। समस्त मांगलिक कार्य जैसे-विवाह, गृह प्रवेश, व्यवसाय,वधू प्रवेश, मुंडन, नव निर्माण आदि सभी कार्य खरमास की समाप्ति तक प्रतिबंधित रहेंगे। सूर्य ग्रह का राशि परिवर्तन 16 दिसंबर सोमवार को दिन में 3:28 पर होगा। सूर्य ग्रह 14 जनवरी 2020 मंगलवार को अर्धरात्रि के पश्चात 2:08 तक धनु राशि में रहेंगे। तत्पश्चात मकर राशि में प्रवेश करेंगे। शनि ग्रह धनु राशि में पहले से विराजमान है। सूर्य ग्रह भी इसी राशि में विराजमान हो जाएंगे।

गौरतलब है कि ये पहले से ही विदित है कि सूर्य और शनि आपस में पिता-पुत्र होते हुए भी इनमें मैत्री संबंध नहीं रहता। सूर्य शनि आपस में शत्रु ग्रह माने गए हैं। वहीं इस बार ग्रहों के योग के अनुसार विश्व में अप्रत्याशित अनहोनी घटनाएं देखने को मिलेंगी। राजनैतिक उथल-पुथल, देश विदेश के राजनैतिक घटनाक्रम में अचानक तेजी से बड़ी उतार-चढ़ाव के साथ विशेष हलचल देखने को मिलेगी। जलयान वायुयान के दुर्घटना की आशंका बनी रहेगी। कई देशों में सत्ता परिवर्तन की भी खींचतान चलेगी। मौसम में भी अजीबोगरीब परिवर्तन होगा। धार्मिक पक्ष को लेकर एक-दूसरे पर छींटाकशी करेंगे। ज्योतिषविद  विमल जैन ने इसी के आधार पर बारहों राशियों पर पड़ने वाले प्रभाव को बताया है जो इस प्रकार है

मेष राशि-आरोग्य सुख मिलेगा। सुख समाचार की प्राप्ति होगी। मनोरंजन में रुचि होगी।जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा।
वृषभ राशि-उलझन प्रभावी रहेगी।आर्थिक पक्ष में असंतोष से परेशानी होगी। वाहन से चोट लगने की संभावना है। मानहानि होगी।
मिथुन राशि-विचारों में उग्रता बढ़ेगी। अध्ययन में व्यतिक्रम होगा। आरोग्य सुख में कमी। प्रियजनों से किसी बात को लेकर चिंतित रहेंगे।
कर्क राशि-बौद्धिक क्षमता का विकास होगा। आय के नवीन साधन सुलभ होंगे। किसी मुद्दे की उपस्थिति में तनाव बढ़ेगा। व्यापारिक वातावरण अनुकूल रहेगा।
सिंह राशि-आत्मविश्वास में कमी आएगी। इच्छा के प्रतिकूल घटनाएं घटित होंगी। धनागम में व्यवधान होगा। यात्रा कुशल मंगल से बीत जायेगा। समस्या से परेशानी होगी।
कन्या राशि-व्यय की अधिकता रहेगी। विरोधी प्रभावी होने की दिशा में प्रयासरत रहेंगे। लाभ का मार्ग अवरुद्ध होगा। वाहन से चोट संभव है।
तुला राशि– धर्म अध्यात्म के प्रति आस्था जगेगी। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। शिक्षा प्रतियोगिता में सफलता हाथ लगेगी।आरोप-प्रत्यारोप का सामनाकरना होगा। पारिवारिक कठिनाइयां परेशानी का सबब बनेगी। अकेलेपन की अनुभूति होगी।
धनु राशि-आरोग्य सुख में कमी आएगी। पारिवारिक संबंधों में कटुता बढ़ेगी। विरोधियों का वर्चस्व रहेगा। पठन-पाठन में रुचि जागृत होगी। क्रोध की अधिकता रहेगी।
मकर राशि-मित्रों से मनमुटाव होगा। स्पष्टवादिता हितकर साबित होगी। भाग्योदय में बाधा आएगी।
कुंभ राशि-सुसमाचार मिलने से खुशी होगी। बहु प्रतीक्षित काम बनने से प्रसन्नता होगी। धनागम का सुअवसर प्राप्त होगा। आत्मीय जनों से अपेक्षित सहयोग मिलेगा।
मीन राशि-शुभ समाचार से मन प्रसन्न रहेगा। मनोरंजन की ओर रुझान बढ़ेगा। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा।

उपाय: सूर्य की प्रसन्नता के लिए अपने आराध्य देवी- देवताओं की आराधना के साथ सूर्य ग्रह की भी अर्चना नियमित रूप से करनी चाहिए। ध्यान के उपरांत सूर्य भगवान को ताम्रपत्र में शुद्ध जल, रोली ,चीनी मिलाकर पूर्व दिशा की ओर मुख करके अर्पित करना चाहिए। साथ ही सूर्य मंत्र का जप करना चाहिए। रविवार के दिन व्रत या उपवास रखकर मध्यान्ह के समय सूर्य ग्रह से संबंधित वस्तुओं का दान करना चाहिए। 3:00 बजे तक उपवास चाहिए साथ ही नामक का प्रयोग नहीं करना चाहिए।