JAUNPUR: आक्रोशित अधिवक्ताओं ने DM ऑफिस का किया घेराव, सौंपा पत्रक

0
21

जौनपुर। पिछले दिनों दिल्ली मेंअधिवक्ताओं व पुलिस में छिड़े जंग का आज चौथा दिन है। गौरतलब है कि 2 नवंबर को दिल्ली के तीस हजारी न्यायालय परिसर में अधिवक्ताओं और पुलिस में हुए गुरिल्ला युद्ध के बाद से मामले ने तूल पकड़ लिया है, जिसका असर अब जनपद में भी देखने को मिला। 

बता दे कि आज जौनपुर में दीवानी कचहरी के हजारों की संख्या में वकील आज कलेक्ट्रेट परिसर में डीएम के कार्यलय को घेराव किया और पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाएं। वकीलों की मांग है कि तीस हजारी कोर्ट में वकील के ऊपर हुए हमले में घायल हुए अधिवक्ता को दस लाख रुपये मुआवजा दे और पुलिस कर्मियों को जांच करके यथा शीध्र दोषी पुलिस वालों को 3 माह के अंदर दण्डित किया जाए।

अभी तक प्रदेश में जितनी भी वकीलों की हत्या हुई है। उनको तीन माह के अंदर गिरफ्तार किया जाए, कोई भी पुलिस अधिकारी या सिपाही न्यायालय परिसर में असलहा लेकर प्रवेश ना कर सके। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ब्रजनाथ पाठक ने बताया कि हम डीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री जी को पत्रक सौपा है। अधिवक्ताओं के हितों की रक्षा यह सरकार नहीं  कर पा रही है। गैर जनपदों में अधिवक्ताओं की हत्या हो रही है। उसपर पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर रहा है।

वहीं अगर किसी का एक्सीडेंट होता है तो विधायक व सांसद किसी न किसी तरह से 5लाख और 10 लाख रुपये सहायता देती है। आज नेताओं की कमी की वजह से हम अधिवक्ताओं को सड़क पर आना पड़ा है। हमारे सारे अधिवक्ता तैयार हैं हम फिर दिल्ली की तरफ रुख करेंगे।