अपना प्रदेश

पूर्व DIG के बेटे की हत्या के मामले का हुआ खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

वाराणसी। पूर्व डीआईजी के बेटे बलवंत सिंह की गोली मारकर की गई हत्या के मामले में वाराणसी पुलिस की तत्परता देखने को मिली। हत्या के 24 घंटे के भीतर ही पुलिस ने आरोपी को पकड़ कर जेल भेज दिया है।

गौरतलब है कि रविवार को सारनाथ थानान्तर्गत अशोक विहार कॉलोनी में पूर्व डीआईजी सभाजीत सिंह के बेटे और पेशे से बिल्डर बलवंत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई। दरअसल रविवार की रात पहड़िया स्थित अशोक विहार कॉलोनी फेज—2 में रियल स्टेट कंपनी साईं बाबा इंफ्रा प्रोजेक्ट के पार्टनर बलवंत सिंह कंपनी के एमडी रामगोपाल सिंह के यहां दावत में शामिल होने गए थे।

वहां दावत के दौरान ही लेनदेन को लेकर ही पार्टनरों के बीच कहासुनी होने लगी,जिसके बाद पंकज चौबे नामक एक पार्टनर ने बलवंत को गोली मार दी। गोली लगने के बाद आनन—फानन में घायल बलवंत को मलदहिया स्थित एक निजी चिकित्सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वाराणसी पुलिस के लिए यह मामला चुनौती पूर्ण रहा, क्योंकि मृतक पूर्व डीआईजी के बेटे भी रहें। इसको लेकर ही पुलिस ने आरोपी की तलाश तेज कर दी और घटना के 24 घंटे के भीतर ही पंकज चौबे को गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी वाराणसी आनंद कुलकर्णी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि सारनाथ थाना क्षेत्र में एक घटना हुई थी, जिसमें बलवंत सिंह जो कि बिल्डर रहें, उनकी गोली मारकर हत्या हुई थी।

एसएसपी ने बताया कि इस संबंध में घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस की टीम के द्वारा छानबीन की गई। सीसीटीवी फुटेज और अन्य सबूत संकलित किया गया। इस दौरान पाया गया कि पार्टी के दौरान ही किसी बात को लेकर पंकज चौबे नामक व्यक्ति जो इनका पार्टनर भी था, उसने अपने लाइसेंसी पिस्टल से बलवंत को गोली मारी थी। इस पूरे मामले में आरोपी पंकज चौबे को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई कर उसे जेल भेजा जा रहा है।

Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Most Popular

To Top